DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › हेमंत सोरेन बोले, बाहरी मानसिकता के लोगों ने मूल निवासियों के हितों से किया खिलवाड़, झारखंडी लोगों के लिए काम कर रही सरकार
झारखंड

हेमंत सोरेन बोले, बाहरी मानसिकता के लोगों ने मूल निवासियों के हितों से किया खिलवाड़, झारखंडी लोगों के लिए काम कर रही सरकार

दुमका। वरीय संवाददाताPublished By: Yogesh Yadav
Wed, 22 Sep 2021 10:52 PM
हेमंत सोरेन बोले, बाहरी मानसिकता के लोगों ने मूल निवासियों के हितों से किया खिलवाड़, झारखंडी लोगों के लिए काम कर रही सरकार

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि 20 साल तक झारखंड में बाहरी मानसिक के लोगों ने राज कर मूलवासियों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया। कुछ लोग बड़े षडयंत्र के तहत मूलवासियों को नौकरियों में नहीं आने देने की फिराक में थे। सरकारी विभागों में उल्टा-पुल्टा नियमावली बना कर दूसरे राज्यों के लोगों को बहाल कर रहे थे। हमारी सरकार ऐसे गलत मंसूबे का सफाया कर रही है जिससे आदिवासियों और मूलवासियों को उनका हक मिल सके। दुमका में बुधवार को सोना सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना का शुभारंभ करने के बाद मुख्यमंत्री समारोह को संबोधित कर रहे थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार झारखंडी हितों को ध्यान में रख कर रोज नए कानून बना रही है। मूलवासियों को कैसे रोजगार मिले, इसके लिए उनकी भाषा, रीति-रिवाजों के आधार पर नियम बनाए जा रहे हैं। हमारा हर निर्णय राज्य के मूलवासियों, आदिवासियों, ओबीसी, किसानों, बेरोजगारों की प्राथमिकता को देखते हुए हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह साल नौकरियों का होगा। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार 5 साल में जेपीएससी की एक परीक्षा नहीं ले सकी, जबकि हमारी सरकार ने इसी 19 सितंबर को जेपीएससी की परीक्षा का आयोजन किया। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि जब मैं 2014 में मुख्यमंत्री था तब हमने सोना सोबरन धोती साड़ी योजना शुरू की थी, पर हमारी सरकार चली गई तो गरीबों के लिए शुरू इस योजना को पूर्ववर्ती सरकार ने बंद कर दिया था। 

58 लाख परिवारों को साल में दो बार 10 रुपए में धोती/लुंगी और साड़ी दी जाएगी

सोना सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना से राज्य के 58 लाख परिवारों को साल में दो बार 10 रुपए में धोती/लुंगी और साड़ी दी जाएगी। इस योजना पर सरकार ने 500 करोड़ रुपए खर्च कर रही है। दुमका पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने मंच पर 10 लाभुकों को सांकेतिक रूप से धोती-साड़ी देकर योजना का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने 231 करोड़ की 126 योजनाओं का शिलान्यास और 37.92 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन भी किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वित्त एवं खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ.रामेश्वर उरांव ने कहा कि अभी लाल और पीला कार्डधारी 58 लाख परिवारों को सोना सोबरन धोती साड़ी योजना का लाभ मिलेगा। आने वाले दिनों में हरा कार्डधारी 4 लाख और परिवारों को इस योजना से जोड़ा जाएगा। कार्यक्रम में राज्य सभा सांसद शिबू सोरेन,कृषि मंत्री बादल,झामुमो विधायक स्टीफन मरांडी,नलिन सोरेन,बसंत सोरेन और जिला परिषद अध्यक्ष जायस बेसरा भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री की अन्य महत्वपूर्ण घोषणाएं

मसानजोर डैम के पानी से दुमका के रानेश्वर, मसिलया और जामताड़ा के नाला,कुंडहित इलाके में खेतों की सिंचाई के लिए परियोजना का शिलान्यास शीघ्र किया जाएगा। यह परियोजना दो साल में पूरा हो जाएगी। पहले स्कूलों में मिड डे मील में बच्चों को सप्ताह में तीन अंडा मिलता था पर अब सप्ताह में 6 अंडा मिलेगा। उन्होंने कहा अंडों का अधिक से अधिक उत्पादन बढ़ाने के लिए झारखंड में मुर्गीपालन को बढ़ावा दिया जाएगा। सरकार अंडा खरीदेगी। अगले सत्र से झारखंड के सभी जिलों में एक-एक अंग्रेजी मीडियम का सरकारी स्कूल खोला जाएगा। विदेशों में भी झारखंड के युवाओं को शिक्षा के लिए सरकार मदद कर रही।

संबंधित खबरें