DA Image
27 जनवरी, 2021|3:47|IST

अगली स्टोरी

झारखंड: बालू उठाव विवाद में चली गोली, हिंसक झड़प में 14 घायल

garhwa jharkhand

सदर थाना क्षेत्र के प्रतापपुर में कोयल नदी से बालू उठाव को लेकर दो पक्षों में हुए खूनी संघर्ष में 14 लोग घायल हो गए हैं। इनमें चार लोगों को गोली लगी है। घटना सोमवार शाम करीब छह बजे की है।

सभी घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गोली बारी में बरकत अली, इवनेकाशीम खान, शैफ अली और कैफ अली को शरीर के अलग-अलग हिस्सों में गोली लगी है। गोली को चिकित्सकों ने ऑपरेशन कर बाहर निकाल लिया है। कैफ को पेट में गोली लगी है। कैफ सहित तीन लोगों की स्थिति गंभीर होने के कारण रिम्स, रांची रेफर कर दिया गया है। यह जानकारी इलाज कर रहे डॉ पियुष प्रमोद और प्रशांत प्रमोद ने दी।

वहीं, मारपीट की घटना में प्रतापपुर पंचायत के नेशार खान, इदरिश खान, एमडी शफीक खान, सलमा बीबी, शहीद खान, मुस्ताक अंसारी, महमूद अंसारी शामिल हैं। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने सदर अस्पताल पहुंच कर मामले की छानबीन करनी शुरू कर दी है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि दरमी और प्रतापपुर गांव से होकर गुजरनेवाली कोयल नदी से बालू उठाव को लेकर दो पक्षों में विवाद उत्पन्न हुआ। यह विवाद चार दिनों से चल रहा था। सोमवार को विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया।

घटना के संबंध में मो शफीक अंसारी ने बताया कि नदी से बालू उठाव की जिम्मेवारी सरकार की ओर से मुखिया को दी गई है। उसने आरोप लगाया कि उसकी आड़ में मुखिया पति नेसार की ओर से अवैध बालू का उठाव किया जा रहा है। जब दूसरे पक्ष के लोग पंचायत में ही जरूरत के अनुसार बालू उठाव करने की मांग मुखिया पति नेसार से की, तो वह मारपीट पर उतारू हो गया। कुछ दिनों से नेसार के आदमी शफीक के पीछे लगे हुए थे। सोमवार को शफीक जैसे ही अपने रिश्तेदार के घर ईद की बधाई देने गया, नेसार के पक्ष के लोग वहां पहुंचकर लाठी डंडे से मारपीट करने लगे। उसी बीच दोनों पक्ष के लोग वहां पहुंच गए। नेसार के पक्ष  से किसी ने गोली चला दी। उससे शैफ, कैफ, बरकत और इवन काशीम को गोली लग गई। वहीं, मारपीट में नेसार सहित उसके पक्ष और मो शफीक सहित अन्य घायल हो गए। 

बालू उठाव विवाद में हो चुकी है चार लोगों की सामुहिक हत्या
गढ़वा जिलांतर्गत बिशुनपुरा थाना क्षेत्र के पिपरी गांव स्थित बांकी नदी बालू घाट पर सामुहिक जतपुरा हत्याकांड में चार लोगों की हत्या 19 मई 2017 को हुई थी। उक्त बालू घाट से ग्रामीण बालू उठाव का विरोध कर रहे थे। बाद में ठेकेदार और ग्रामीणों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। हिंसक झड़प में  जतपुरा गांव के एक ही परिवार में पिता और उनके दो बेटों के अलावा एक अन्य व्यक्ति की हत्या हुई थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Firing In Jharkhand Garhwa District Over The Issue Sand 14 People Injured