ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडबजट 2022-23 से उम्मीदः लोहरदगा-टोरी लाइन में ट्रेनों की संख्या बढ़ाने की बढ़ी मांग

बजट 2022-23 से उम्मीदः लोहरदगा-टोरी लाइन में ट्रेनों की संख्या बढ़ाने की बढ़ी मांग

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण वर्ष 2022-23 के लिए एक फरवरी को संसद में आम बजट पेश करेंगी। इस बजट में रेलवे बजट भी शामिल होगा, जिसमें रेलवे की परियोजनाओं और रेलवे यात्री सुविधाओं को लेकर भी...

बजट 2022-23 से उम्मीदः लोहरदगा-टोरी लाइन में ट्रेनों की संख्या बढ़ाने की बढ़ी मांग
Sudhir Kumarसंवाददाता,रांचीSun, 23 Jan 2022 07:24 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण वर्ष 2022-23 के लिए एक फरवरी को संसद में आम बजट पेश करेंगी। इस बजट में रेलवे बजट भी शामिल होगा, जिसमें रेलवे की परियोजनाओं और रेलवे यात्री सुविधाओं को लेकर भी वित्त मंत्री बजट प्रस्ताव रखेंगी। मंडलों में विभाजित झारखंड का दक्षिण पूर्व रेलवे को आनेवाले बजट से कई उम्मीदें टिकी हैं। दक्षिण पूर्व रेलवे उपभोक्ता सलाहकार समिति ने रांची रेलमंडल से जुड़ी ऐसी कई मांगें रखी है, जिसकी मांग रेलवे बोर्ड-रेल मंत्रालय से यात्री संघ, पीएसी कमेटी और सांसद लगातार करते रहे हैं।

लोहरदगा-टोरी लाइन से ज्यादा उम्मीदें जुड़ी हुई हैं। आने वाले दिनों में इस लाइन का व्यावसायिक गतिविधियों वाली लाइन के रूप में तब्दील होने की संभावना है। इस लाइन के निर्माण में रेलवे प्रशासन ने करीब साढ़े सात सौ करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

चैंबर से जुड़ी रेलवे सलाहकार समिति के अरुण जोशी के मुताबिक इस लाइन से रांची से सूरत-अहमदाबाद, रांची से जयपुर, रांची-लखनऊ, रांची-एलटीटी व इसी रूट से रांची-वाराणसी जनशताब्दी ट्रेन चलाने की मांग की गई है। रांची-गढ़वा के लिए मेमू ट्रेन चलाने, रांची-लोहरदगा लाइन को गुमला रेललाइन से जोड़ने की भी बात कही गई है।

रांची-गुवाहाटी गरीब रथ चलाने, रांची-टोरी का विस्तार बालूमाथ तक करने, मुरी से चांडिल तक डबल लाइन करने, हटिया यार्ड में लोड कम हो। इसके लिए लोहरदगा में वॉशिंग पीट बनाने की भी बात कही गई है। साथ ही शनिवार को झारखंड स्वर्णजयंती का परिचालन नहीं होता है, इसका हजारीबाग की जनता को लाभ मिले। इसलिए इस ट्रेन को इस दिन बड़काकाना-कोडरमा लाइन से चलाने का प्रस्ताव रेलवे को भेजा गया है।

 

epaper