ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड5 हजार एंट्री फीस, किराए के मकान में जुए का खेल; एएसआई के कारनामे से पुलिस हैरान

5 हजार एंट्री फीस, किराए के मकान में जुए का खेल; एएसआई के कारनामे से पुलिस हैरान

रांची पुलिस के एक एएसआई के कारनामों ने वर्दी पर दाग लगाया है। पुलिसकर्मी किराए के मकान में जुए के अड्डे का संचालन कर रहा था। जहां जुआरी दस हजार से लेकर तीस लाख तक का जुआ खेल सकते थे।

5 हजार एंट्री फीस, किराए के मकान में जुए का खेल; एएसआई के कारनामे से पुलिस हैरान
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,रांचीWed, 29 Nov 2023 11:43 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी रांची में न सिर्फ पुलिस संरक्षण में, बल्कि पुलिस वाले जुआ के अड्डे का संचालन कर रहे हैं। कांके रोड मिसिरगोंदा में जिस जुए के अड्डे में पुलिस की टीम ने छापेमारी कर 20 लोगों को शनिवार की रात पकड़ा था। इनमें 14 पुलिसकर्मी के अलावा छह अन्य लोग शामिल थे। इस अड्डे का संचालन पुलिस का एक एएसआई अरुण सिंह कर रहा था। उसने मिसिर गोंदा में एक माह पहले भाड़े पर एक मकान लिया। उसी मकान में जुआ खिलवा रहा था। बताया जा रहा है कि मिसिर गोंदा स्थित जुआ के अड्डे में प्रवेश के लिए जुआरियों से दो से पांच हजार रुपए फीस ली जाती थी। इस अड्डे में दस हजार से लेकर तीस लाख रुपए तक जुआरी जुआ खेल सकते थे। जुआरियों को खाने-पीने से लेकर सारी चीजें मुहैया करायी जाती थी। दूसरी ओर भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने पुलिस विभाग की कार्यशैली पर प्रश्न खड़ा किया है।

पहले न्यू पुलिस लाइन में ही सजती थी महफिल

कांके रोड स्थित न्यू पुलिस लाइन में जुआ के अड्डे की महफिल सजती थी। यहां पर एक साल से अधिक समय तक एएसआई ने अड्डे का संचालन किया। पुलिस के आला अधिकारियों को जब इसकी जानकारी मिली, तब इस अड्डे को बंद कर मिसिर गोंदा में खोला।

रांची में दो दर्जन जगहों पर सजते हैं जुए के अड्डे

रांची में दो दर्जन से ज्यादा जगहों पर जुए के अड्डे का संचालन किया जा रहा है। इसकी जानकारी रांची पुलिस को भी है। लेकिन संबंधित थाने की ओर से जुआ के अड्डे पर न तो छापेमारी की जाती है और न ही बंद कराने की दिशा में कोई कार्रवाई की जाती है।

पुलिस पहुंची तो फरार हो गया फाइनेंसर

मिसिरगोंदा स्थित जुए के अड्डे के बाहर एक फाइनेंसर भी खड़ा था। वह जुआ खेलने वालों को ब्याज पर पैसा मुहैया कराता था। शनिवार की रात कई लोगों ने पैसा भी लिया था। जब पुलिस की टीम छापेमारी के लिए पहुंची तो फाइनेंसर फरार हो गया।

इन जगहों पर अड्डे का होता है संचालन

चुटिया, कांके रोड, मोरहाबादी, डोरंडा थाना के सामने बाजार में, सदर थाना क्षेत्र में, पंडरा के महावीर नगर, हिनू इलाके में, कलाल टोली, रतन टॉकिज, डोरंडा नेपाली कॉलोनी समेत अन्य जगहों पर जुए का अड्डा चल रहा है।

कैसे चलाया जाता था अड्डा

● एक माह पहले भाड़े पर मकान लेकर जमादार कर रहा था अड्डे का संचालन
● जुआरियों को अड्डे में खाने-पीने से लेकर सारी चीजें मुहैया करायी जाती थी

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें