ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडहेमंत सोरेन की रिमांड आज पूरी, चैट स्वीकारा पर हस्ताक्षर से इनकार; मिलेगी बेल या होगी जेल?

हेमंत सोरेन की रिमांड आज पूरी, चैट स्वीकारा पर हस्ताक्षर से इनकार; मिलेगी बेल या होगी जेल?

गिरफ्तारी के बाद से ईडी तीन बार में कुल 13 दिनों तक हेमंत सोरेन से पूछताछ कर चुकी है। पुलिस रिमांड का हक अब खत्म हो गया है। ईडी ने हेमंत सोरेन को 31 जनवरी को गिरफ्तार किया था।

हेमंत सोरेन की रिमांड आज पूरी, चैट स्वीकारा पर हस्ताक्षर से इनकार; मिलेगी बेल या होगी जेल?
Abhishek Mishraहिन्दुस्तान,रांचीThu, 15 Feb 2024 11:13 AM
ऐप पर पढ़ें

Hemant Soren news: रांची जमीन घोटाले में ईडी ने बुधवार को पूरे दिन पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से पूछताछ की। गुरुवार को पूर्व सीएम की रिमांड अवधि खत्म हो रही है। ऐसे में उन्हें पीएमएलए की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा, जिसके बाद न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा।

अभी इस बात को लेकर संशय बरकरार है कि उन्हें रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा में रखा जाएगा या कैंप जेल के तौर पर नोटिफाइड आईएएस क्लब में। राज्य पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक, दोनों ही जगहों पर पूर्व मुख्यमंत्री को रखने के लिए पूरी तैयारी की गई है। गिरफ्तारी के बाद से ईडी तीन बार में कुल 13 दिनों तक हेमंत सोरेन से पूछताछ कर चुकी है। पुलिस रिमांड का हक अब खत्म हो गया है। ईडी ने हेमंत सोरेन को 31 जनवरी को गिरफ्तार किया था। इसके देखते हुए ईडी अधिकतम 15 फरवरी तक रिमांड पर लेकर पूछताछ करने को अधिकृत है।

मांगने के बाद भी अपना मोबाइल एजेंसी को नहीं दिया

रांची जमीन घोटाले में ईडी को विनोद सिंह के मोबाइल से जो चैट मिले हैं, उसे हेमंत सोरेन ने स्वीकार किया है। उन्होंने यह माना है कि चैट उनका है, लेकिन उन्होंने इससे जुड़े दस्तावेज पर बुधवार शाम तक हस्ताक्षर नहीं किए थे। वहीं, ईडी द्वारा कई बार मांगने के बाद भी हेमंत सोरेन ने अपना मोबाइल एजेंसी को नहीं दिया है। ईडी को विनोद सिंह के दो अलग- अलग मोबाइल से 539 व 210 पन्नों का चैट मिला था।

विनोद से लगातार पूछताछ, निवेश के दस्तावेज मिले

पूर्व सीएम हेमंत सोरेन के करीबी दोस्त विनोद सिंह से गुरुवार को पूछताछ होनी है। ईडी ने 12 फरवरी की छापेमारी के बाद फिर से विनोद सिंह को समन भेजा है। विनोद सिंह से लगातार ईडी पूछताछ कर रही है। विनोद पहली बार तीन जनवरी को ईडी की रडार पर आए थे। अवैध खनन व गवाहों को प्रभावित करने से जुड़े केस में छापेमारी के बाद विनोद के यहां से निवेश संबंधी दस्तावेज व चैट मिले थे। इसके बाद ही ईडी ने जमीन घोटाले की जांच में भी रफ्तार पकड़ी।

14 फरवरी 2022 को सदस्य बना आवंटित किया प्लॉट

जांच में पाया गया है कि 14 फरवरी 2022 को महिला को सर्विसेज हाउसिंग कॉपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड ने अपनी सोसाइटी का सदस्य बताया। इसके बाद सोसाइटी के सचिव ने 13.15 डिसमिल जमीन का प्लॉट 375 बी का आवंटन 18 दिसंबर 2022 को कर दिया। अशोक नगर की सर्विसेज हाउसिंग कॉपरेटिव सोसाइटी ने जहां जमीन आवंटित की है, वहां सिर्फ ए या बी श्रेणी की नौकरी वाले लोगों को ही जमीन का आवंटन किया जा सकता है। आवंटन के बाद जमीन पर आलिशान मकान का निर्माण भी कराया गया है। ईडी को इससे जुड़े सारे दस्तावेज मिले हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें