ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडसाहिबगंज SDPO राजेंद्र दूबे को ED का समन, पंकज मिश्रा से करते थे फोन पर बात

साहिबगंज SDPO राजेंद्र दूबे को ED का समन, पंकज मिश्रा से करते थे फोन पर बात

पंकज मिश्रा से हिरासत में रहने के बाद फोन पर बात करने वाले साहिबगंज एसडीपीओ राजेंद्र दूबे को ईडी ने समन किया है। इनसे 8 दिसंबर को पूछताछ होगी। पंकज मिश्रा हिरासत के दौरान फोन का इस्तेमाल करता था।

साहिबगंज SDPO राजेंद्र दूबे को ED का समन, पंकज मिश्रा से करते थे फोन पर बात
Suraj Thakurलाइव हिन्दुस्तान,रांचीTue, 06 Dec 2022 06:58 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

पंकज मिश्रा से हिरासत में रहने के बाद फोन पर बात करने वाले साहिबगंज एसडीपीओ राजेंद्र दूबे को ईडी ने समन किया है। इनसे 8 दिसंबर को पूछताछ होगी। ईडी ने जांच में बताया था कि पंकज मिश्रा ने 27 जुलाई से 20 अक्तूबर तक 300 से अधिक फोन कॉल्स किए थे। ईडी ने सोमवार को इसी मामले में राजेंद्र दूबे को समन कर दिया। ईडी इसी मामले में मंगलवार को पंकज मिश्रा के करीबी सूरज पंडित से पूछताछ करेगी। वहीं चंदन यादव से 7 दिसंबर को पूछताछ की जाएगी। पंकज मिश्रा की मुश्किलें बढ़ना तय है। 

न्यायिक हिरासत के दौरान फोन पर एक्टिव था पंकज मिश्रा
गौरतलब है कि पिछले महीने ईडी ने खुलासा किया था कि साहिबगंज में हुए 1000 करोड़ रुपये के अवैध खनन मामले में मुख्य आरोपी पंकज मिश्रा न्यायिक हिरासत में रहने के दौरान फोन का इस्तेमाल किया करता था। जुलाई से अक्टूबर के बीच पंकज मिश्रा ने विभिन्न लोगों से तकरीबन 300 फोन कॉल्स किए। लिस्ट में कई वरीय अधिकारियों का नाम भी शामिल है। ईडी ने ये भी बताया था कि पंकज मिश्रा अपने राजनीतिक रसूख का इस्तेमाल कर लोगों को धमकाता था। यहां तक कि वो लोगों को हड़काने में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का नाम भी इस्तेमाल किया करता था। 

ईडी ने 19 जुलाई को पंकज मिश्रा को गिरफ्तार किया था
बता दें कि साहिबगंज में हुए अवैध खनन और मनी लाउंड्रिंग मामले में ईडी ने पंकज मिश्रा के साहिबगंज, राजमहल, बड़हरवा, उधवा, मिर्चाचौकी और बरहेट के करीब 18 ठिकानों पर छापा मारा था। छापेमारी में पंकज मिश्रा के आवास से 5 करोड़ 34 लाख रुपये नगद और दस्तावेज मिले थे। पंकज मिश्रा और दाहू यादव सहित कुछ अन्य लोगों से जुड़े 37 बैंक खातों में 11 करोड़ 87 लाख रुपये जमा होने का पता चला था। 30 करोड़ रुपये की कीमत वाला एक मालवाहक जहाज भी ईडी ने जब्त किया था। 19 जुलाई को पंकज मिश्रा को गिरफ्तार किया गया था।