DA Image
26 जनवरी, 2021|5:54|IST

अगली स्टोरी

धनबाद : बेलगड़िया में धर्म परिवर्तन के आरोप में निर्माणाधीन चर्च में तोड़फोड़, पुलिस ने किया फ्लैग मार्च

धर्म परिवर्तन के आरोप में सोमवार को बेलगड़िया टाउनशिप में जमकर हंगामा हुआ। घटना सोमवार शाम करीब साढ़े सात बजे की है। हो-हंगामे के दौरान बिजली गुल हो गई। इसके बाद कुछ उपद्रवियों ने निर्माणाधीन चर्च में तोड़फोड़ शुरू कर दी। चर्च में लगे क्रास निशान को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस दौरान सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो भी अपने समर्थकों के साथ घटनास्थल के आसपास ही मौजूद थे। वे धर्मांतरण के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे। विधायक बलियापुर थाना प्रभारी गोपालचंद्र घोषाल से बात कर रहे थे। चर्च में तोड़फोड़ से स्थानीय लोगों के आक्रोशित हो जाने के बाद तनाव को देखते हुए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया। पुलिस धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। स्थिति से निबटने के लिए एडीएम विधि-व्यवस्था व बीडीओ रतन कुमार सिंह दलबल के साथ पहुंचे। पुलिस हालात पर नजर रख रही है। इधर हिरासत में लिए गए युवक कायना बंसल व सुशांत प्रधान ने धर्म परिवर्तन कराने से इनकार किया है। देर रात तक सिंदरी डीएसपी बलियापुर थाना में कैंप कर रहे थे। दोनों पक्षों को चिह्नित किया जा रहा है। 

कैसे बढ़ा बवाल : घटना से एक घंटा पहले शाम करीब छह बजे धर्म परिवर्तन की सूचना पर सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो, विहिप के जिलामंत्री रमेश पांडेय, उपेन्द्र सिंह, मुकेश पांडेय, उप मुखिया सीमा देवी, महावीर महतो, मिंटू साव, मंटू रवानी, पंकज सिंह, मिथिलेश सिंह, राहुल मिश्रा आदि बेलगड़िया टाउनशिप पहुंचे। लोगों से पूछताछ की। लोगों ने बताया कि ईसाई मिशनरी से जुड़े कुछ लोग बेलगड़िया टाउनशिप के गरीब-गुरबा लोगों को बरगलाकर व पैसे का प्रलोभन दे कर धर्म परिवर्तन करा रहे हैं। लोग धर्म परिवर्तन करवाने में अहम भूमिका निभानेवाले अरुणाचल प्रदेश से आए कायना सहित दो युवकों का नाम ले रहे थे। लोग दोनों युवकों पर कानूनी कार्रवाई की मांग कर रहे थे। खबर पाकर डीएसपी अजीत कुमार सिन्हा व थाना प्रभारी गोपालचंद्र घोषाल दलबल के साथ पहुंचे। आक्रोशित लोगों को समझाने-बुझाने का प्रयास किया। देखते ही देखते आसपास की भीड़ जुट गयी। लोगों ने मौके पर दोनों युवकों की जमकर फजीहत भी की। स्थिति बिगड़ते देख पुलिस दोनों युवकों को थाना ले आई। थाना में दोनों युवकों से पूछताछ चल रही है। 

एक दर्जन परिवारों का धर्म परिवर्तन कराने का आरोप : लोगों का कहना है कि ईसाई मिशनरी से जुड़े लोग एक दर्जन परिवारों का धर्म परिवर्तन करा रहे हैं। अरुणाचल प्रदेश से आया कायना का कहना है कि लोगों के कहने पर ही उसने चर्च का निर्माण का काम शुरू कराया। युवक का कहना है कि वह जबरन किसी का भी धर्म परिवर्तन नहीं कराता है। निर्माणाधीन भवन में वह बच्चों को ट्यूशन पढ़ाता है। लोगों का कहना है कि ईसाई मिशनरी से जुड़े चार युवक तीन वर्ष से बेलगड़िया टाउनशिप में रह रहे थे। बेलगड़िया टाउनशिप में रह कर वे ईसाई धर्म का प्रचार-प्रसार व धर्म परिवर्तन करवाने का काम कर रहे थे। 

धर्म परिवर्तन गलत : सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो ने कहा कि ईसाई मिशनरी से जुड़े लोग गरीब व भोले-भाले लोगों को तरह-तरह का प्रलोभन दे धर्म परिवर्तन करवा रहे हैं, जो गलत है। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

 जो भी दोषी होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई होगी : एसएसपी अखिलेश बी वारियर ने बताया कि पुलिस मौके पर कैंप कर रही है। मजिस्ट्रेट की भी तैनाती की गई है। स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। सिंदरी डीएसपी की अगुवाई में पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। पता लगाया जा रहा है कि आखिर ऐसी परिस्थिति कैसे बनी। हर दृष्टिकोण से छानबीन कर आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। दोषियों को किसी भी सूरत में नहीं छोड़ा जाएगा।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dhanbad: Police demolish flag march under construction in Belagadia for conversion