ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडरेवड़ियों की तरह यूनिपोल बांट रहा नगर निगम, नियमों को ताक पर रख खड़े किए होर्डिंग्स; मिलता है इतना राजस्व

रेवड़ियों की तरह यूनिपोल बांट रहा नगर निगम, नियमों को ताक पर रख खड़े किए होर्डिंग्स; मिलता है इतना राजस्व

धनबाद में नगर निगम रेवड़ियों की तरह यूनिपोल बांट रहा है। नियमों को ताख पर रख कर शहर की सड़कों पर होर्डिंग्स खड़े किए जा रहे हैं। होर्डिंग एजेंसियों ने शहर को विज्ञापन केंद्र बना दिया है।

रेवड़ियों की तरह यूनिपोल बांट रहा नगर निगम, नियमों को ताक पर रख खड़े किए होर्डिंग्स; मिलता है इतना राजस्व
Sneha Baluniप्रमुख संवाददाता,धनबादFri, 07 Oct 2022 06:18 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

खूबसूरत दिखने वाला शहर धनबाद को बदसूरत बनाने की तैयारी नगर निगम कर रहा है। शहर की मुख्य सड़कों पर नियमों को ताख पर रख कर यूनिपोल (होर्डिंग्स) खड़े किए जा रहे हैं। कहीं 20 मीटर तो कहीं 30 मीटर की दूरी पर यूनिपोल खड़े हो रहे हैं। अपनी चेहेती एजेंसियों को लाभ पहुंचाने के लिए नगर निगम रेवड़ियों की तरह यूनिपोल बांट रहा है। आठ किलोमीटर के शहर में 134 यूनिपोल खड़े कर दिए गए हैं।

धनबाद के तीन प्रमुख सड़कों पर नगर निगम ने यूनिपोल लगाने की अनुमति देने में गजब की दरियादिली दिखाई है। राजस्व बढ़ाने का हवाला देकर निगम ने यूनिपोल लगाने की अनुमति दी है, लेकिन इससे शहर की सूरत बिगड़ रही है। निगम के अधिकारियों को इससे मतलब नहीं है। दुर्गापूजा के बाजार को देखते हुए निगम ने धड़ाधड़ यूनिपोल लगाने की अनुमति होर्डिंग एजेंसियों को दे दी है। 

होर्डिंग एजेंसियों ने शहर को विज्ञापन का केंद्र बना कर छोड़ दिया है। कुछ दिन पहले आईआईटी गेट के समीप यूनिपोल लगाने के लिए नींव खोदी गई, इससे कॉलेज का मेन गेट ही ढक जाएगा। लेकिन आश्चर्य है कि नगर निगम के जिम्मेवार अधिकारी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं। निगम को एक यूनिपोल से सालाना 90 हजार से एक लाख रुपए तक का राजस्व प्राप्त होता है।

सहायक नगर आयुक्त प्रकाश कुमार ने कहा, 'यूनिपोल का सर्वे किया जा रहा है। चैंबर की कुछ आपत्ति है, उसकी भी जांच की जाएगी। आईएसएम के समीप किसी को यूनिपोल लगाने की अनुमति नहीं दी गई है। वहां नींव किसने खोदी है, इसकी जांच होगी। नियम की अवेहलना कर यूनिपोल लगाने वाली एजेंसियों पर कार्रवाई होगी। किसी को मनमानी की छूट नहीं है।'

राइजिंग एजेंसी पर मेहरबान निगम 

होर्डिंग एजेंसी राइजिंग पर नगर निगम मेहरबान है। पिछले एक साल में इस कंपनी को 44 जगहों पर होर्डिंग लगाने की अनुमति दी गई। निगम के एक पूर्व अधिकारी के नजदीकी माने जाने वाली कंपनी ने इसका फायदा उठाया और दो होर्डिंग के बीच में जगह निकाल कर शहर में अपना यूनिपोल खड़ा करना शुरू कर दिया।

बिग बाजार, बैंक मोड़ और धैया में सर्वाधिक 

नगर निगम ने बिग बाजार, बैंक मोड़ और धैया के प्रभातम मॉल के समीप सर्वाधिक यूनिपोल लगाने की अनुमति दी है। यहां सड़क पर जहां तक नजर जा रही है, वहां सिर्फ यूनिपोल ही नजर आ रहे हैं। एक यूनिपोल दूसरे यूनिपोल को ढंकने की पूरी कोशिश कर रहा है। आनेवाले दिनों में यह दो एजेंसियों के बीच विवाद की भी बड़ी वजह बन कर सामने आएगा।

epaper