Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडधनबाद जज मौत मामलाः पेशेवर की तरह बयान बदल रहे ऑटो चालक व सहयोगी

धनबाद जज मौत मामलाः पेशेवर की तरह बयान बदल रहे ऑटो चालक व सहयोगी

धनबाद, प्रतिनिधिYogesh Yadav
Tue, 05 Oct 2021 12:49 AM
धनबाद जज मौत मामलाः पेशेवर की तरह बयान बदल रहे ऑटो चालक व सहयोगी

इस खबर को सुनें

धनबाद के जिला एवं सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत मामले में गिरफ्तार ऑटो चालक लखन वर्मा और राहुल वर्मा सीबीआई के समक्ष लगातार अपने बयान बदल रहे हैं। सीबीआई ने सोमवार को विशेष न्यायालय में आवेदन देकर यह आरोप लगाया है। सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि दोनों पेशेवर अपराधियों की तरह अपना बयान बदल रहे हैं। कई आपत्तिजनक चीजें जब्त की गई हैं। जिससे उन पर शक गहराते जा जा रहा है।

सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि चोरी के ऑटो का नंबर प्लेट अभी तक नहीं मिला है। नंबर प्लेट को बरामद करने के लिए और समय की आवश्यकता है। दोनों ने अपना अपराध कबूल किया है, लेकिन इस कांड में उनका सहयोग करने वालों का पता लगाने के लिए और पूछताछ जरूरी है। इसलिए पुलिस रिमांड बढ़ाया जाय। सीबीआई की दलील सुनने के बाद न्यायालय ने दोनों की रिमांड अवधि सात दिनों के लिए बढ़ा दी। 11 अक्तूबर की सुबह 11 बजे तक उनका पुलिस रिमांड बढ़ा दिया गया है।

सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि ऑटो का नंबर प्लेट बरामद करने के लिए यह पता लगाना जरूरी है कि आरोपियों ने नंबर प्लेट को कहां तोड़ कर फेंका है। ऑटो चोरी का मकसद क्या था। इस कांड में उन्हें किन लोगों ने मदद की। सीबीआई ने दावा किया है कि रिमांड अवधि बढ़ाई जाय तो इन तथ्यों का खुलासा हो सकता है।

सीबीआई की ओर से 30 अक्तूबर को हाईकोर्ट में दाखिल किए गए केस के स्टेटस रिपोर्ट में बताया गया है कि सीबीआई इस केस में कड़ी से कड़ी जोड़ रही है। अब तक के अनुसंधान में सीबीआई ने कई साक्ष्य जुटाए हैं जिससे साफ है कि ऑटो चालक लखन वर्मा और राहुल वर्मा ने जानबूझ कर जज को टक्कर मारी थी। सीबीआई पता लगा रही है कि इसके पीछे कौन लोग शामिल थे।

epaper

संबंधित खबरें