ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडJMM विधायक लोबिन हेंब्रम के खिलाफ चलेगा दलबदल केस, शिबू सोरेन ने विधानसभा में दर्ज कराई शिकायत

JMM विधायक लोबिन हेंब्रम के खिलाफ चलेगा दलबदल केस, शिबू सोरेन ने विधानसभा में दर्ज कराई शिकायत

झामुमो सुप्रीमो व राज्यसभा सांसद शिबू सोरेन की तरफ से झारखंड विधानसभा अध्यक्ष रबींद्र नाथ महतो को लोबिन के खिलाफ दलबदल के तहत करवाई करने के लिए पत्र लिखा गया है।

JMM विधायक लोबिन हेंब्रम के खिलाफ चलेगा दलबदल केस, शिबू सोरेन ने विधानसभा में दर्ज कराई शिकायत
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीSun, 23 Jun 2024 06:37 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) ने साफ कर दिया है कि आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी से बगावत करने वालों के साथ नरमी नहीं बरती जाएगी। झामुमो के बोरियो विधायक लोबिन हेंब्रम के खिलाफ स्पीकर न्यायाधिकरण में 10वीं अनुसूची के तहत दलबदल का मामला चलेगा। झामुमो सुप्रीमो व राज्यसभा सांसद शिबू सोरेन की तरफ से झारखंड विधानसभा अध्यक्ष रबींद्र नाथ महतो को लोबिन के खिलाफ दलबदल के तहत करवाई करने के लिए पत्र लिखा गया है। स्पीकर को पत्र प्राप्त हो गया है। जल्द ही लोबिन को नोटिस दे कर उनका पक्ष मांगा जाएगा। इसके बाद स्पीकर न्यायाधिकरण में दलबदल के तहत मामला चलेगा।

लोसचुनाव में अपने ही दल के प्रत्याशी के विरुद्ध खड़े हुए
2019 के झारखंड विधानसभा चुनाव में लोबिन झामुमो के सिंबल पर निर्वाचित हुए, लेकिन उन्होंने बागी तेवर अपनाते हुए लोकसभा चुनाव 2024 में अपने ही दल के प्रत्याशी विजय हंसदा के खिलाफ राजमहल सीट से निर्दलीय ताल ठोक दी। इस वजह से लोबिन को पार्टी से छह साल के लिए निलंबित भी किया गया है। इन बातों का जिक्र शिबू सोरेन की तरफ से लिखे पत्र में किया गया है। लोकसभा चुनाव के दौरान ही पार्टी विरोधी गतिविधि और गठबंधन धर्म का अनुपालन नहीं करने और पार्टी के कार्यकर्ताओं को भ्रमित करने के आरोप में लोबिन को छह साल के लिए सभी पदों से हटाकर पार्टी से निकाला गया था।

विधायक जेपी पटेल पर भी दलबदल की कार्रवाई जारी
मांडू के भाजपा विधायक जेपी पटेल के खिलाफ दल-बदल कानून के तहत कार्रवाई जारी है। भाजपा ने इस संबंध में विधानसभा अध्यक्ष से शिकायत की थी। उल्लेखनीय है कि जेपी पटेल लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस में शामिल हो गए थे। कांग्रेस के टिकट पर उन्होंने हजारीबाग संसदीय सीट से चुनाव लड़ा और परास्त हुए। भाजपा की शिकायत पर उनके खिलाफ दर्ज मामले में विधानसभा सचिवालय ने जवाब दाखिल करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया गया है। जेपी पटेल का जवाब विधानसभा सचिवालय को मिलने के बाद दल-बदल मामले में कार्यवाही आगे बढ़ेगी। स्पीकर न्यायाधिकरण में पूरे मामले की सुनवाई होगी। ज्ञात है कि विशुनपुर से झामुमो विधायक चमरा लिंडा ने भी निर्दलीय चुनाव लड़ा था। उन्हें भी छह साल के लिए दल से निलंबित किया गया है। दूसरी तरफ सीता सोरेन ने झामुमो से इस्तीफा दे दिया है। वह भाजपा में शामिल हुई और चुनाव लड़ीं, लेकिन हार गईं। 

Advertisement