ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडटीचर ने क्लास में उतरवाए कपड़े, शर्मिंदा छात्रा ने खुद को लगाई आग; हालत गंभीर

टीचर ने क्लास में उतरवाए कपड़े, शर्मिंदा छात्रा ने खुद को लगाई आग; हालत गंभीर

जमशेदपुर के साकची स्थित शारदामणि गर्ल्स स्कूल की नौंवी की छात्रा के टीचर ने नकल के शक में कपड़े उपरवाकर जांच की थी। आहत छात्रा ने खुद को आग लगा ली थी। आज सुबह उसकी अस्पताल में मौत हो गई।

टीचर ने क्लास में उतरवाए कपड़े, शर्मिंदा छात्रा ने खुद को लगाई आग; हालत गंभीर
Sneha Baluniहिन्दुस्तान ब्यूरो,जमशेदपुरSat, 15 Oct 2022 05:17 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

टीचर ने क्लास में उतरवाए कपड़े, शर्मिंदा छात्रा ने खुद को लगाई आग; हालत गंभीर
जमशेदपुर के स्कूल में नकल एक टीचर ने नकल के शक में पूरी क्लास के सामने दलित छात्रा के कपड़े उतरवाकर चेकिंग की। इससे आहत छात्रा मे घर पहुंचकर खुद को कमरे में बंद कर लिया और केरोसिन छिड़ककर आग लगा ली। परिजनों ने गंभीर रूप से जली छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।छात्रा अस्सी प्रतिशत से ज्यादा जल चुकी है । घटना से नाराज परिजन और स्थानीय लोगों ने डीईओ कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया और आरोपी शिक्षिका पर करवाई की मांग की।
जमशेदपुर के साकची स्थित शारदामणि गर्ल्स स्कूल में नौंवी क्लास में पढ़ने वाली छात्रा के टीचर ने नकल के शक में कपड़े उतरवाए थे। छात्रा के पास से कोई पर्ची नहीं मिली लेकिन घटना की वजह से वह बहुत आहत हो गई थी। ऐसे में घर आकर उसने खुद को आग लगा ली। इलाज टीएमएच में इलाज चल रहा है।घटना के विरोध में सैकड़ों लोग स्कूल से लेकर डीईओ कार्यालय तक बवाल कर रहे थे।  अस्पताल से लेकर डीईओ कार्यालय तक की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। स्कूल बंद कर दिया गया है। शिक्षिका की बर्खास्तगी का आदेश दे दिया गया है।

डीईओ कार्यालय पर प्रदर्शन

छात्रा के खुद को आग लगाने के बाद शनिवार सुबह-सुबह उसके परिजन और छाया नगर बस्ती के लोग स्कूल परिसर पहुंच गए। यहां बस्ती के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि घटना के बाद शनिवार को स्कूल खुला नहीं था, इसलिए लोग स्कूल के मेन गेट के बाहर बैठे रहे। यहां घंटों बैठने के बाद बस्ती के लोग डीईओ कार्यालय के सामने प्रदर्शन करने के लिए निकल गए। बस्ती के लोग आरोपी शिक्षिका पर कार्रवाई और उसके इलाज का खर्च स्कूल की ओर से देने की मांग कर रहे थे। आक्रोशित लोगों ने डीईओ दफ्तर में ताला जड़ दिया।