Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडबिजली संकट: ईसीएल मुगमा से भेजा गया कोयला एनटीपीसी फरक्का ने अनलोड करने से रोका, लगाया गंभीर आरोप, मचा हड़कंप

बिजली संकट: ईसीएल मुगमा से भेजा गया कोयला एनटीपीसी फरक्का ने अनलोड करने से रोका, लगाया गंभीर आरोप, मचा हड़कंप

हिन्दुस्तान ब्यूरो,धनबादSudhir Kumar
Tue, 12 Oct 2021 08:49 AM
बिजली संकट: ईसीएल मुगमा से भेजा गया कोयला एनटीपीसी फरक्का ने अनलोड करने से रोका, लगाया गंभीर आरोप, मचा हड़कंप

इस खबर को सुनें

देश में गंभीर बिजली संकट के बीच कोयले की गुणवत्ता को लेकर एनटीपीसी और ईसीएल के बीच किचकिच शुरु हो गयी है। एनटीपीसी फरक्का थर्मल पावर स्टेशन ने ईसीएल मुगमा क्षेत्र से शनिवार को भेजी गई कोयला की रैक को अनलोड करने से रोक दिया है। एनटीपीसी का कहना है कि कोयले की गुणवत्ता खराब है। सूत्रों ने बताया कि फरक्का एनटीपीसी ने इसकी शिकायत कोल इंडिया से की है। इसको लेकर ईसीएल के अधिकारियों में हडकंप है। कोयला अनलोड में देरी से रेलवे ईसीएल से डैमरेज मांग सकता है।

एनटीपीसी ने कोयला का खराब गुणवत्ता का लगाया आरोप

सूत्रों ने बताया कि ईसीएल मुगमा क्षेत्र की सेंट्रल पुल रेलवे साइडिंग से शनिवार को कोयला लदी रैक फरक्का थर्मल पावर स्टेशन (एनटीपीसी) मुर्शिदाबाद (बंगाल) के लिए ईसीएल प्रबंधन ने भेजी। फरक्का एनटीपीसी ने रेलवे रैक में पत्थर मिश्रित कोयला भेजने का आरोप लगा कर रैक अनलोड करने से मना कर दिया। सूत्रों ने बताया कि रैक में कोयले का गुणवत्ता काफी खराब है। इससे बिजली उत्पादन में काफी मुश्किल होगी।

वरीय अधिकारी से शोकॉज की चर्चा

इसलिए कोयला अनलोड करने से मना किया। साथ ही इसकी शिकायत कोल इंडिया से की गई है। इससे ईसीएल प्रबंधन में हड़कंप है। एक वरीय अधिकारी को शोकॉज की चर्चा है। इधर, ईसीएल के महाप्रबंधक विभाष चंद्र सिंह ने कहा कि फरक्का एनटीपीसी प्रबंधन ने गलत आरोप लगाया है। मुगमा क्षेत्र से अच्छी गुणवत्ता के कोयले की रैक भेजी गई है।


 

epaper

संबंधित खबरें