DA Image
27 मार्च, 2020|2:48|IST

अगली स्टोरी

झारखंड: 66 लाख परिवारों को घर पर मिलेगा राशन, पेंशनधारियों को दो महीने की पेंशन एक साथ- CM सोरेन

hemant soren jpg

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे राज्य के नौ लाख अंत्योदय परिवार सहित 57 लाख कार्डधारक परिवारों तक समय पर खाद्यान्न उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने कांके रोड स्थित आवास में राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिए।

सोरेन ने कहा कि प्रखंड वार जन वितरण प्रणाली (पीडीएस) दुकानों द्वारा खाद्यान्न का उठाव और वितरण कार्यों का जियो टैगिंग के साथ-साथ पोर्टल पर फोटो अपलोड करने की व्यवस्था जल्द तैयार करें। उन्होंने जिलों के सभी उपायुक्तों को निर्देश दिया है कि पीडीएस के दुकानों की प्रतिदिन निगरानी करें। सरकार के मापदंडों के आधार पर राशन वितरण में किसी प्रकार की कोई कमी ना हो यह सुनिश्चित किया जाए।

दो महीन का राशन एक ही साथ दें

मुख्यमंत्री ने सभी लाभार्थियों को दो महीने का पहले ही राशन वितरण सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने कहा कि राज्य के वैसे परिवार जिनके पास राशन कार्ड नहीं है और जरूरतमंद हैं उन्हें भी राशन उपलब्ध कराने के लिए ग्राम स्तरीय समिति समन्वय बनाए ताकि उन्हें खाद्यान्न उपलब्ध हो सके। सोरेने ने कहा कि पीडीएस दुकानों के कार्य प्रणाली में पारदर्शिता रहे यह नोडल पदाधिकारी सुनिश्चित करेंगे।

किसी को परेशानी न हो, यह हमारी प्राथमिकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में आम जनता को किसी प्रकार की परेशानी ना हो यह हम सभी की प्राथमिकता होनी चाहिए। सरकार द्वारा इस संकट की घड़ी में किए जा रहे कार्यों का पूरा लाभ एक-एक परिवार तक पहुंचे यह सुनिश्चित किया जाए। खाद्यान्न उठाव एवं वितरण की जानकारी एक-एक जनता को होनी चाहिए। उन्होंने निर्देश दिया कि राज्य भर में जितने थाने हैं वहां पर केंद्रीकृत रसोईघर की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए ताकि भुखमरी जैसी नौबत नहीं आए और आम जनता की वास्तविक परेशानियों की जानकारी मिल सके।

पीडीएस दुकानों को 12 घंटे खोला जाए

सोरेन ने बैठक में वरिष्ठ अधिकारियों के जल्द ही एक प्रणाली तैयार करने पर विचार किया जिसमें खाद्यान्न के साथ-साथ पीडीएस दुकानों से आम जनता के लिए चिउड़ा, गुड़, चना, आलू, प्याज इत्यादि का भी वितरण किए जाएं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि पीडीएस दुकानों को और व्यापक स्तर पर चलाया जाएं। पीडीएस दुकानें कम से कम 12 घंटे कार्यरत रहें। जब कभी भी लाभार्थी परिवार राशन लेने आए उन्हें राशन उपलब्ध हो यह सुनिश्चित किया जाए।

पेंशनधारकों को मार्च-अप्रैल का पेंशन एक साथ दें

सोरेन ने निर्देश दिया कि राज्य में जितने भी वृद्धा पेंशन दिव्यांग पेंशन विधवा पेंशनधारी लोग हैं उन्हें मार्च और अप्रैल माह का पेंशन पहले ही वितरित कर दिया जाए ताकि विपदा की इस घड़ी में वे अपना जीवन यापन ठीक से कर सकें। मुख्यमंत्री ने कहा है कि आपदा की इस स्थिति में कोई भी किराना दुकान बंद ना हो यह सुनिश्चित किया जाए। जरूरत पड़ने पर किराना दुकान के आसपास होमगार्ड के जवानों की तैनाती की जाए। अफरातफरी का महौल न बने इसका प्रयास किया जाए।

सीएम ने राज्य स्तरीय समिति का गठन किया

सोरेन ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर एक राज्य स्तरीय समिति का गठन किया गया है। जो राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे राहत कार्यों की निगरानी करेगी। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर बनी समितियां प्रतिदिन सरकार के स्तर पर चलने वाले कार्यों का प्रतिवेदन राज्य सरकार को सौंपें। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि किसी भी प्रकार का खाद्यान्न राज्य से बाहर नहीं जाए यह सुनिश्चित किया जाए। आलू प्याज सहित कोई भी खाद्यान्न फिलहाल राज्य से बाहर नहीं जाने दिए जाएं।

मुख्यमंत्री ने कोरोनावायरस के संक्रमण की आशंका को देखते हुए निर्देश दिया है कि स्वास्थ्य विभाग अधिक से अधिक जांच किट एवं मशीन इत्यादि की व्यवस्था करे। इस अवसर पर स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव नितिन मदन कुलकर्णी ने मुख्यमंत्री के समक्ष कोरोनावायरस को लेकर आज तक हुई कार्यों की विस्तृत जानकारी दी। साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा आगे किए जाने वाले कार्यों की भी जानकारी दी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CM Hemant Soren Announce To Delivered Ration To 66 Lakh People At Their Door Step In Jharkhand During Lockdown Due To Corona Virus