DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्राइस्टचर्च शूटिंग: गोलीबारी के बीच पति को बचाने दौड़ पड़ी जमशेदपुर की रेहाना 

न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च स्थित अलनूर मस्जिद के अंदर जब आतंकी गोलियां बरसा रहा था तो वहां फंसे अपने पति को बचाने के लिए जमशेदपुर की रेहाना परवीन मस्जिद की तरफ दौड़ पड़ी। उसे गोलीबारी की सूचना बेटे सैयान ने दी थी। न्यूजीलैंड में हुए हमले में जमशेदपुर के मो. शमीम सिद्दीकी को भी गोली लगी। गोली उनके बाएं हाथ में लगी है। ऑपरेशन कर गोली निकाल दी गई है। वह खतरे से बाहर हैं। शमीम सिद्दीकी न्यूजीलैंड में ट्रांसपोर्टर हैं। उनकी पत्नी रेहाना परवीन, बेटी अलिशा सिद्दीकी (20 वर्ष) और बेटा सैयान सिद्दीकी (14 वर्ष) उनके साथ रहते हैं। 'हिन्दुस्तान' से बातचीत में न्यूजीलैंड से शमीम के बेटे सैयान ने फोन पर बताया कि मस्जिद के ठीक सामने ही उनका घर है। वह अपने पिता के साथ नमाज पढ़ने गए थे। कुछ काम से वह अपने घर लौट गए थे। कुछ देर बाद ज्योंही वह पुन: मस्जिद के पास पहुंचा तो देखा एक युवक गोली चलाते हुए अंदर घुस रहा है। यह देखकर वह चिल्लाते हुए भागकर अपने घर गया और मां को घटना की जानकारी दी।

शमीम की पत्नी रेहाना बेटे सैयान के साथ दौड़कर मस्जिद के पास गई तो उस समय अंदर गोली चल रही थी। दोनों इधर-उधर दौड़ते रहे। तब तक अन्य लोग भी बाहर आ गए। थोड़ी देर में हमलावर बाहर निकला। उसे देखकर सभी वहां से भागे। शमीम की पत्नी रेहाना ने बताया कि पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई थी। उनके पति मस्जिद के अंदर थे। वह मस्जिद के अंदर जाने लगी तो उन्हें रोक लिया गया। किसी को नहीं मालूम था कि अंदर कोई हमलावर है या नहीं। थोड़ी देर में वहां पुलिस आ गई। पुलिस ने घायलों को बाहर निकाला। उनमें उनके पति शमीम भी थे। उनके बाएं हाथ में गोली लगी थी। 

New Zealand Shooting: बेरहम ने 74 पन्नों में खींचा खौफनाक मंजर

शमीम ने फोन से जमशेदपुर में अपने चचेरे भाई को बताया, 'मैं मस्जिद के अंदर था। अचानक बाहर गोलियों की आवाज सुनाई दी। पहले तो समझ में नहीं आया कि क्या हो रहा हैअचानक गोली चलाते हुए एक व्यक्ति अंदर आने लगा। हम सभी एक कोने की तरफ भागे। मेरे ऊपर कई लोग आकर गिर पड़े। वहीं, आतंकवादी हमलों में हैदराबाद के अहमद इकबाल जहांगीर भी घायल हो गए।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Christchurch shooting rehana from Jamshedpur rushed to save his husband amid the shooting of Alnur mosque