ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडझारखंड में सरकार पर संशय बरकरार! हैदराबाद जा रहे चंपई के विधायक; बीजेपी की बैठक कल

झारखंड में सरकार पर संशय बरकरार! हैदराबाद जा रहे चंपई के विधायक; बीजेपी की बैठक कल

झामुमो विधायक दल के नवनिर्वाचित नेता चंपई सोरेन ने कहा कि उन्हें सरकार गठन के लिए राजभवन से आमंत्रण मिलने का इंतजार है क्योंकि उन्हें 81 सदस्यीय विधानसभा में 47 विधायकों का समर्थन हासिल है।

झारखंड में सरकार पर संशय बरकरार! हैदराबाद जा रहे चंपई के विधायक; बीजेपी की बैठक कल
Swati Kumariलाइव हिन्दुस्तान,रांचीThu, 01 Feb 2024 08:32 PM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड में जारी राजनीतिक उथल-पुथल के बीच बीजेपी ने शुक्रवार को विधायक दल की बैठक बुलाई है। ऐसे में सबकी नजरें इस बैठक पर हैं। वहीं, झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) नीत गठबंधन भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की ओर से विधायकों को लुभाए जाने के किसी भी प्रयास को नाकाम करने के लिए उन्हें हैदराबाद भेजा जा रहा है।  उन्होंने कहा, ''हमारे विधायकों को हैदराबाद ले जाने के लिए 12 और 37 सीट वाले दो चार्टर्ड विमान बुक किए गए हैं।'' एक विधायक ने कहा, ''सरकार गठन के लिए राजभवन से आमंत्रण मिलने में किसी भी प्रकार की देरी की सूरत में बीजेपी की ओर से विधायकों को लुभाए जाने के किसी भी प्रयास को नाकाम करने के लिए झामुमो नीत गठबंधन अपने विधायकों को झारखंड से बाहर भेज सकता है।''
     
इस बीच, झामुमो विधायक दल के नवनिर्वाचित नेता चंपई सोरेन ने कहा कि उन्हें सरकार गठन के लिए राजभवन से आमंत्रण मिलने का इंतजार है क्योंकि उन्हें 81 सदस्यीय विधानसभा में 47 विधायकों का समर्थन हासिल है। गौरतलब है कि झारखंड में जेएमएम के 29, कांग्रेस के 17, आरजेडी के एक और सीपीआईएमएल के एक विधायक हैं। इनकी कुल संख्या 48 है। जबकि चंपई सोरेन के खिलाफ 32 विधायक हैं। इनमें बीजेपी क 26, आजसू के तीन, निर्दलीय दो और एनसीपी के एक विधायक हैं। यहां कुल 81 सीटें हैं और एक सीट खाली है। बहुमत के लिए 41 सीटों की जरूरत होती है। चंपई सोरेन ने 47 विधायकों के साथ वाला पत्र राज्यपाल को सौंपा है। 

कांग्रेस-जेएमएम सवाल उठा रही है कि जब बहुमत है तो राज्यपाल सीएम की शपथ में देरी क्यों कर रहे हैं।  जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को बुधवार उनके आधिकारिक आवास पर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सात घंटे की पूछताछ के बाद ईडी ने गिरफ्तार कर लिया था। सोरेन (48) को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कथित भूमि धोखाधड़ी से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया है। मुख्यमंत्री के रूप में झामुमो के वरिष्ठ नेता चंपई सोरेन का नाम प्रस्तावित किया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें