ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में बिजनेसमैन की पत्थर से कूचकर हत्या, कचरे में लाश मिलने पर इलाके में दहशत

झारखंड में बिजनेसमैन की पत्थर से कूचकर हत्या, कचरे में लाश मिलने पर इलाके में दहशत

जांच के दौरान पुलिस ने घटनास्थल से पत्थर और बांस बरामद किया है, लेकिन राजू का पर्स व मोबाइल पुलिस को नहीं मिला है। इधर, व्यवसायी की हत्या के बाद बस्ती में दहशत कायम है।

झारखंड में बिजनेसमैन की पत्थर से कूचकर हत्या, कचरे में लाश मिलने पर इलाके में दहशत
police
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,जमशेदपुरTue, 28 May 2024 10:46 AM
ऐप पर पढ़ें

जमशेदपुर के परसूडीह थाना क्षेत्र के गैंताडीह के व्यवसायी राजू अग्रवाल (42) की बांस से पीटकर एवं पत्थर से कूचकर हत्या कर दी गई। घटना रविवार रात करीब 9.30 बजे की है। पुलिस ने राजू अग्रवाल का शव एलबीएसएम कॉलेज के पीछे कचरा डंपिंग यार्ड से बरामद किया है। पुलिस अचेत समझकर राजू को सदर अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस छानबीन में जुटी है।

जांच के दौरान पुलिस ने घटनास्थल से पत्थर और बांस बरामद किया है, लेकिन राजू का पर्स व मोबाइल पुलिस को नहीं मिला है। इधर, व्यवसायी की हत्या के बाद बस्ती में दहशत कायम है। पुलिस ने राजू अग्रवाल की पत्नी प्रियंका के बयान पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। पत्नी ने बताया कि राजू मंडी से बेसन एवं सत्तू लाकर पैक करने के बाद जमशेदपुर की दुकानों में सप्लाई करता था। पुलिस के अनुसार, सिर में पीछे गंभीर चोट लगने के कारण राजू की मौत होने की आशंका है।

मकान और पाइपलाइन को लेकर था विवाद
व्यवसायी राजू अग्रवाल की हत्या की पीछे मकान और पाइपलाइन विवाद बताया जा रहा है। पुलिस की पूछताछ में व्यवसायी की पत्नी प्रियंका अग्रवाल ने हत्याकांड में किसी को नामजद आरोपी नहीं बनाया, लेकिन मकान और सरकारी पाइपलाइन को लेकर बस्ती के लोगों से विवाद की जानकारी दी है। पुलिस मकान और पाइपलाइन को लेकर राजू अग्रवाल से रंजिश रखने वालों को थाने बुलाकर पूछताछ करेगी। वहीं, एलबीएसएम कॉलेज के आसपास सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाल रही है, ताकि मैदान में राजू के साथ रहने वाले अन्य लोगों की पहचान हो सके।

दोस्त का फोन नहीं उठाने पर खोज रही थी पत्नी
पत्नी प्रियंका ने पुलिस को बताया किशन ने राजू अग्रवाल को कई बार फोन किया, लेकिन उसने फोन नहीं उठाया तो किशन घर आ गया। इससे दोनों राजू की तलाश में घर से निकले। एलबीएसएम कॉलेज के पीछे गली के पास उसका शव पड़ा मिला। पुलिस के अनुसार, जेल मैदान के पास के निवासियों से भी पूछताछ की जा रही है, ताकि हत्यारोपी की पहचान करने के साथ हत्या का कारण स्पष्ट कर सके। पूछताछ में पत्नी हत्या के कारणों से खुद को अनभिज्ञ बता रही है।

फुटबॉल खेलने गया था जेल मैदान
पत्नी ने पुलिस को बताया राजू रोज शाम बच्चों को लेकर फुटबॉल खेलने जेल मैदान जाता था और साढ़े छह बजे तक घर लौट आता था। पत्नी के अनुसार, राजू कभी कभार शराब पीता था, जबकि छानबीन के दौरान पुलिस को स्थानीय लोगों से पता चला कि वह अक्सर शाम होने पर दोस्त के साथ शराब पीने जाता था। इधर, पुलिस ने राजू अग्रवाल की पत्नी के बाद उसके खास दोस्त किशन से भी पूछताछ की है, लेकिन हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है।