ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में जवानों से भरी बस पलटी, एक का धड़ से अलग हो गया सिर; 39 घायल

झारखंड में जवानों से भरी बस पलटी, एक का धड़ से अलग हो गया सिर; 39 घायल

घटना की सूचना मिलने पर गिरिडीह एसपी दीपक कुमार शर्मा भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने घायलों से मिलकर उनका हालचाल जाना। साथ ही डाक्टरों से मिलकर घायलों की स्थिति से अवगत हुए।

झारखंड में जवानों से भरी बस पलटी, एक का धड़ से अलग हो गया सिर; 39 घायल
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,बगोदर(गिरिडीह) हजारीबाग लोहरदगाWed, 08 May 2024 08:53 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड के गिरिडीह के बगोदर थाना क्षेत्र के जीटी रोड घाघरा कॉलेज के निकट फ्लाईओवर के पास मंगलवार को आईआरबी जवानों से भरी बस पलट गई। हादसे में जवान विकास भगत की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 39 घायल हो गए। विकास भगत लोहरदगा जिले के किसको थाना क्षेत्र के बरनादकोचा गांव के रहनेवाले थे। घायलों में जवान मोतीलाल बास्के, हिंदू मांडी, स्वाधीन हेंब्रम, प्रियरंजन एवं गोपाल कुमार गंभीर हैं।

घायलों का प्राथमिक इलाज बगोदर ट्रॉमा सेंटर में किया गया। गंभीर रूप से घायल पांच जवानों को धनबाद रेफर कर दिया गया है। धनबाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उपचार के बाद गंभीर स्थिति को देखते हुए मोतीलाल बास्के, हिंदू मांडी को बेहतर इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से रांची भेज दिया गया। तीन अभी धनबाद में ही भर्ती हैं।

धड़ से अलग हो गया सिर
सभी जवान एसएसटी बस पर सवार होकर चुनाव ड्यूटी के लिए गढ़वा जिले के रंका थाना क्षेत्र जा रहे थे। इसी दौरान अनियंत्रित बस जीटी रोड के डिवाइडर से टकरा कर पलट गई, जिससे विकास भगत की मौके पर ही मौत हो गई। उनका सिर धड़ से अलग हो गया। इधर, घटना के बाद बगोदर पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को आनन-फानन में बगोदर ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया, जहां सभी का प्राथमिक इलाज किया गया।

घटना की सूचना मिलने पर गिरिडीह एसपी दीपक कुमार शर्मा भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने घायलों से मिलकर उनका हालचाल जाना। साथ ही डाक्टरों से मिलकर घायलों की स्थिति से अवगत हुए। उन्होंने घटनास्थल का भी जायजा लिया। मौके पर सार्जेंट मेजर राकेश रंजन, एसडीपीओ धनंजय कुमार राम, डुमरी एसडीपीओ सुमित कुमार, बगोदर थाना प्रभारी सुख सागर सिंह चौधरी, सरिया थाना प्रभारी अरबिंद कुमार, बगोदर बीडीओ अजय कुमार वर्मा आदि अधिकारी पहुंचे हुए थे। घटना के बाद बगोदर ट्रॉमा सेंटर एवं घटनास्थल पर लोगों की घंटों भीड़ रही।