ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में बड़ा हादसा, बच्ची को बचाने में पुल के नीचे गिरी बस; सवार थे 48 लोग

झारखंड में बड़ा हादसा, बच्ची को बचाने में पुल के नीचे गिरी बस; सवार थे 48 लोग

यात्रियों से भरी बस खूंटी से जमशेदपुर जा रही थी। इस दौरान एक बच्ची अचानक बीच सड़क पर दौड़ गई। जिससे चालक ने अपना नियंत्रण खो दिया और बस सीधे सिंदरी पुल के नीचे जा गिरी।

झारखंड में बड़ा हादसा, बच्ची को बचाने में पुल के नीचे गिरी बस; सवार थे 48 लोग
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांची, खूंटीTue, 21 May 2024 02:53 PM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड से एक बुरी खबर सामने आई है। खूंटी में मंगलवार की सुबह बड़ा हादसा हो गया। यात्रियों से भरी एक बस पलट कर पुल के नीचे गिर गई है। जानकारी के मुताबिक, तमाड़-खूंटी मार्ग पर सिंदरी पुल के नीचे एक बस गिर गई। इस हादसे में कई यात्री घायल हो गए हैं। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर तीन एंबुलेंस पहुंची हैं। घायलों को अड़की अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि अभी तक किसी की मौत की सूचना नहीं मिली है। बस में करीब 48 यात्री थे।

बच्ची को बचाने में बस पलटी
जानकारी के मुताबिक, यात्रियों से भरी बस खूंटी से जमशेदपुर जा रही थी। इस दौरान एक बच्ची अचानक बीच सड़क पर दौड़ गई। जिससे चालक ने अपना नियंत्रण खो दिया और बस सीधे सिंदरी पुल के नीचे जा गिरी। हालांकि घटना के बाद वह बच्ची कहीं दिखाई नहीं दी। ग्रामीणों का तो यह भी कहना है कि बस की रफ्तार बेहद तेज थी और चालक नशे में था। हालांकि घटना के बाद चालक फरार हो गया।

मौके पर भेजी गईं तीन एंबुलेंस
जानकारी के मुताबिक, बस पलटने की सूचना मिलते ही मौके पर तीन एंबुलेंस पहुंचीं। बस में करीब 48 लोग सवार थे। सड़के से पलटते हुए पुल के नीचे गिरने से कई लोग इस हादसे में घायल हो गए हैं। घायलों को अड़की अस्पताल ले जाया गया है। खबर लिखने तक किसी की मौत की सूचना नहीं मिली है।

यह भी जानिए: हजारीबाग में सड़क हादसे में एक की गई जान
हजारीबाग जिले के बड़कागांव के महटिकरा चौक पर बाइक सवार तीन लड़कों को एक सवारी गाड़ी ने टक्कर मार दी। इसमें एक लड़के की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। दो लड़के घायल हैं, जिन्हें बड़कागांव सदर अस्पताल भेजा गया है। वहीं एक दूसरे मामले में कोडरमा थाना क्षेत्र अंतर्गत राजाबागी आंगनबाड़ी केंद्र में करंट की चपेट में आने से मंगलवार को 7 वर्षीय बच्चे की मौत हो गई। घटना के बाद सेविका और सहायिका फरार हो गए हैं।