ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडबैंड बाजा बारात के साथ दरवाजे पर था दूल्हा, तभी दुल्हन ने कर ली खुदकुशी; मचा खूब बवाल

बैंड बाजा बारात के साथ दरवाजे पर था दूल्हा, तभी दुल्हन ने कर ली खुदकुशी; मचा खूब बवाल

रविवार की रात टंडवा गांव में बिगा उरांव की पुत्री की शादी थी। बारातियों को भोजन कराया जा रहा था। इसी बीच शोर मचा की दुल्हन प्रमिला कच्छप ने जहरीली दवा खाकर आत्महत्या कर ली है।

बैंड बाजा बारात के साथ दरवाजे पर था दूल्हा, तभी दुल्हन ने कर ली खुदकुशी; मचा खूब बवाल
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीTue, 11 Jun 2024 07:24 AM
ऐप पर पढ़ें

दुल्हन के घर बैंड बाजा बारात के साथ दूल्हा पहुंचा था। बारातियों में जश्न का माहौल था। सभी लोग खाना खा रहे थे। तभी अचानक शोर मचा और देखते ही देखते पूरा माहौल गमगीन हो गया। दरअसल, अपनी शादी वाले दिन दुल्हन ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। यह झारखंड के चतरा के प्रतापपुर थाना क्षेत्र के यादव नगर टंडवा की घटना है।

मचा खूब बवाल
रविवार की रात शादी की खुशियां मातम में बदल गई। दुल्हन ने ही जहरीली दवा खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। जिस घर से डोली उठनी थी, वहां से अर्थी उठी। एक तरफ दुल्हन के घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल था, वहीं बारातियों ने खूब हंगामा मचाया। पुलिस ने बारातियों को शांत कराकर दुल्हन का शव पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल चतरा भेज दिया।

किसी दूसरे लड़के से चल रहा था प्रेम-प्रसंग
दरअसल, रविवार की रात टंडवा गांव में बिगा उरांव की पुत्री की शादी थी। बारातियों को भोजन कराया जा रहा था। इसी बीच शोर मचा की दुल्हन प्रमिला कच्छप ने जहरीली दवा खाकर आत्महत्या कर ली है। सूचना पर पहुंचे थाना प्रभारी कासिम अंसारी ने बताया कि युवती का प्रेम-प्रसंग किसी अन्य लड़के से चल रहा था। परंतु परिवार वालों ने दूसरी जगह शादी तय कर दी। इसी से नाराज होकर उसने आत्महत्या कर ली।

यह भी जानिए: चोरी के आरोप में बच्ची को रस्सी से बांधकर पीटा था
वहीं एक दूसरे मामले में धनबाद के हावड़ा मोटर के पास बेहोश मिली बच्ची को सोमवार को सीडब्ल्यूसी ने बयान लिया। सीडब्लूसी अध्यक्ष उत्तम मुखर्जी ने इस मामले में अस्पताल चिकित्सा अधीक्षक से बातचीत की। मुखर्जी के साथ-साथ जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी साधना कुमारी, डीएलएसए के पीएलवी चंदन कुमार भी अस्पताल पहुंचे और बच्ची से बातचीत की। बच्ची ने बताया पहले वे लोग छाईगदा में रहते थे। उसके माता-पिता गुजर गए हैं। नानी उसकी देखभाल करती है। भाई को ले जाने के बाद जब उसे लेने के लिए चाइल्ड लाइन की टीम आई तो नानी सुनीता देवी उसे लेकर चांदमारी चली गई। बच्ची ने बताया कि चांदमारी में ही एतवारी नामक व्यक्ति ने पैसा चोरी का आरोप लगाकर रस्सी से बांधकर उसकी पिटाई की और गर्म छड़ से दागा। सीडब्लूसी अध्यक्ष उत्तम मुखर्जी ने इस संबंध में एसएसपी को पत्र लिखा है। तथा सभी संबंधित थानों को समन्वय कर पीड़िता को न्याय दिलाने का निर्देश दिया है।