ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडमौसम में सामने आया बड़ा अपडेट, सर्वाधिक-न्यूनतम तापमान गिरा या बढ़ा?

मौसम में सामने आया बड़ा अपडेट, सर्वाधिक-न्यूनतम तापमान गिरा या बढ़ा?

झारखंड के अधिकतर शहरों में इस साल न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया जा रहा है। पिछले छह दिनों में तापमान में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। झारखंड केशहरों का सामान्य पर अपडेट आया है।

मौसम में सामने आया बड़ा अपडेट, सर्वाधिक-न्यूनतम तापमान गिरा या बढ़ा?
Himanshu Kumar Lallरांची, हिन्दुस्तानSun, 03 Dec 2023 09:43 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड के अधिकतर शहरों में इस साल न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया जा रहा है। पिछले छह दिनों में तापमान में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। 26 नवंबर तक झारखंड के जिन शहरों का तापमान सामान्य से एक डिग्री तक अधिक था, अभी वहां न्यूनतम तापमान सामान्य से सात डिग्री ऊपर पहुंच गया है।

बंगाल की खाड़ी और पश्चिमी विक्षोभ से नमी के संयुक्त प्रवाह से दिसंबर महीने में भी न्यूनतम तापमान अधिक होने की स्थिति बनी हुई है। इसके चलते मौसम शुष्क बना हुआ है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार अभी अधिकतर शहरों का औसत न्यूनतम तापमान 11 से 13 डिग्री के बीच होना चाहिए था, लेकिन अभी 18 डिग्री तक पहुंच गया है।

राज्य के लगभग सभी शहरों में न्यूनतम तापमान सामान्य से सात से आठ डिग्री तक ऊपर है। रांची मौसम विभाग के वैज्ञानिक अभिषेक आनन्द बताते हैं कि इस बार अल नीनो के प्रभाव से दिसंबर महीने में भी न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर रहेगा।

रांची समेत राज्य में अगले चार दिनों तक सुबह में धुंध के बाद आंशिक बादल छाए रहेंगे। हल्की बारिश भी हो सकती है। इसके बाद अधिकतम तापमान में गिरावट आएगी।बंगाल की खाड़ी में चक्रवातीय तूफान और पश्चिमी विक्षोभ के कारण यहां का मौसम प्रभावित रहेगा।

इस साल ठंड कम पड़ने के आसार
मौसम विज्ञानियों का अनुमान है कि हर साल की अपेक्षा इस बार ठंड कम पड़ेगी। शीत दिवस और शीतलहर के दिनों की संख्या में कमी आ सकती है। अभी पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बादलों की आवाजाही बनी हुई है।

नमी का प्रवाह लगातार बने रहने से न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर है। अगले एक-दो दिनों में इसमें कुछ कमी आएगी। लेकिन बंगाल की खाड़ी में बने अवदाब की वजह से सात और आठ दिसंबर को भी आंशिक बारिश की स्थिति भी बन सकती है। इसके बाद ठंड में बढ़ोतरी के आसार हैं।

तापमान परिवर्तन से व्यक्ति सिरदर्द, बुखार, सामान्य से अधिक थकान महसूस करना, नाक बहना और आंखों से पानी आना जैसे लक्षण से बीमार महसूस कर सकता है। ऐसा मौसम होने से शरीर बीमारी से लड़ने के तरीके को प्रभावित कर सकता है। 
डॉ संजय सिंह, प्रोफेसर, रिम्स

न्यूनतम तापमान के अधिक होने का कोई असर झारखंड में कृषि पर नहीं पड़ेगा। इसका कारण यह है कि झारखंड में अभी धनकटनी चल रही है। धनकटनी के बाद जब खेत खाली होंगे, तब उनमें फसल लगाने का दौर शुरू होगा। फिलवक्त कोई विशेष परेशानी की बात नहीं है। 
डॉ. डी.एन. सिंह, कृषि वैज्ञानिक, बीएयू

जाड़ा के मौसम में न्यूनतम तापमान में वृद्धि से मवेशियों में लंपी स्कीन और बकरी में गोट पॉक्स के मामले बढ़ जाते हैं। ऐसे में किसान और पशुपालक को चाहिए कि वे मवेशियों और बकरियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाएं।
डॉ शिवानंद कांशी, पशु चिकित्सक, इटकी

जिलों का तापमान (डिग्री में)
जिला अधिकतम न्यूनतम

रांची 27.0 18.0
बोकारो 27.3 18.0
देवघर 29.0 18.7
गढ़वा 29.0 18.3
गिरिडीह 28.0 18.1
गोड्डा 29.9 18.8
मेदिनीनगर 30.4 18.8
जमशेदपुर 31.0 18.6

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें