ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडरांची में रामनवमी की शोभायात्रा से पहले 10 घरों की छत पर मिले पत्थर, सभी को नोटिस; ड्रोन से निगरानी

रांची में रामनवमी की शोभायात्रा से पहले 10 घरों की छत पर मिले पत्थर, सभी को नोटिस; ड्रोन से निगरानी

पुलिस की ओर से उन 10 घर के मालिकों को चिह्नित किया गया है। उन सभी को पुलिस की ओर से नोटिस भेजा गया है। भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि वे घर की छत पर रखे पत्थरों को अविलंब हटा लें।

रांची में रामनवमी की शोभायात्रा से पहले 10 घरों की छत पर मिले पत्थर, सभी को नोटिस; ड्रोन से निगरानी
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीTue, 16 Apr 2024 07:29 AM
ऐप पर पढ़ें

रांची में रामनवमी की शोभायात्रा बुधवार को निकाली जाएगी। इसको लेकर रांची पुलिस पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है। एसएसपी चंदन कुमार सिन्हा के निर्देश पर सोमवार को पुलिस की ओर से शहर के संवेदनशील इलाकों में स्थित घरों की निगरानी ड्रोन कैमरे से की गई। ड्रोन कैमरे के जरिए पुलिस को यह पता चला है कि मेन रोड, लेक रोड और हिंदपीढ़ी के दस घरों की छत पर पत्थर रखे हुए हैं। कुछ घरों में तो एक जगह पर ही पत्थर जमा कर रखा हुआ मिला है। इसको लेकर रांची पुलिस बेहद गंभीर है।

सभी को नोटिस
पुलिस की ओर से उन 10 घर के मालिकों को चिह्नित किया गया है। उन सभी को पुलिस की ओर से नोटिस भेजा गया है। भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि वे घर की छत पर रखे पत्थरों को अविलंब हटा लें। वे नहीं हटाते हैं तो अगर शहर में किसी तरह का फसाद होता है और उन पत्थरों का इस्तेमाल होते पाया गया तो संबंधित घर मालिक पर सीधे कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस के अनुसार अगर फसाद होता है तो फिर से ड्रोन के जरिए उन घरों की स्थिति देखी जाएगी। इस दौरान पत्थर कम मिले तो माना जाएगा कि फसाद में पत्थर का इस्तेमाल किया गया है।

शोभा यात्रा के मार्ग में निगरानी
एसएसपी के निर्देश पर रविवार से ही शहर के वैसे इलाके, जहां से रामनवमी की शोभायात्रा गुजरती है, उन इलाकों में ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। एसएसपी ने बताया कि जिन इलाकों में पत्थर या फिर संदिग्ध चीजें मिल रही हैं, उन इलाकों में अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की जा रही है। एसएसपी ने बताया कि रामनवमी को लेकर पुलिस बेहद गंभीर है। सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। कोई भी व्यक्ति अफवाह या फिर माहौल बिगाड़ते हुए पकड़ा जाता है तो वैसे लोगों को सीधे जेल भेजा जाएगा।

जुलूस में सादे लिबास में भी तैनात रहेंगे पुलिसकर्मी
रामनवमी और चैती जुलूस में सादे लिबास में पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। एसएसपी ने एक सौ से अधिक पुलिसकर्मी की तैनाती की है। इन पुलिसकर्मियों को जुलूस में शामिल लोगों की निगरानी करने का भी निर्देश दिया गया है। उनसे कहा गया है कि कोई भी व्यक्ति अगर माहौल खराब करते नजर आता है तो उसे तुरंत पकड़ा जाए। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें