DA Image
19 जनवरी, 2020|4:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राम मंदिर का निर्णय तो सुप्रीम कोर्ट का, झूठी वाहवाही ले रही भाजपा : हेमंत सोरेन

झारखंड विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हेमंत सोरेन ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने का निर्णय उच्चतम न्यायालय का है, लेकिन वाहवाही भाजपावाले ले रहे हैं। मेरे लिए तो गरीबों की टूटी झोपड़ी ही मेरा मंदिर है। हर गरीब राम के समान हैं।

झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने बुधवार को कालिकापुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार एवं मुख्यमंत्री रघुवर दास पर निशाना साधा। कहा कि भाजपा सरकार के पांच वर्ष के कार्यकाल में राज्य भर में डर का माहौल है। कभी बच्चा चोरी, कभी गौ तस्करी तो कभी डायन-बिसाही के नाम पर बेगुनाहों को मौत के घाट उतार दिया जाता है। राज्य में भूख से मौत हो रही है। किसान एवं बेरोजगार आत्महत्या के लिए विवश हैं। सरकार को इन सारी बातों से कोई बावस्ता नहीं है। वह तो इन तमाम समस्याओं से बेफिक्र है। 

पोटका से झामुमो प्रत्याशी संजीव सरदार के समर्थन में चुनाव प्रचार करने पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा आदिवासी-मूलवासी विरोधी सरकार है। सरकार लोगों को ऐसे आवास और शौचालय दे रही हैं जिसका इस्तेमाल नहीं हो सकता है। आप हमारी सरकार बनाएं। गठबंधन की सरकार बनती है तो हर गरीब को पक्का मकान बनाने के लिए तीन लाख रुपए दिए जाएंगे। साथ ही, मुफ्त बिजली, पानी और शौचालय की सुविधाएं दी जाएंगी। सोरेन ने कहा कि विगत पांच वर्षों में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आदिवासी मूलवासी को खूब रूलाया।

मुख्यमंत्री राजधानी से अपने गृह जिले (रांची-जमशेदपुर हाईवे) को भी सही ढंग से नहीं जोड़ सके। झारखंड मोमेंटम के नाम पर हाथी उड़ाया गया। हालांकि हाथी उड़ा नहीं, लेकिन मुख्यमंत्री रघुवर दास मोटा जरूर हो गए। उनके गृह जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन व दवा के बिना मरीज मर रहे हैं। उन्हें एमजीएम की सुधि लेने की फुरसत तक नहीं। झामुमो की सरकार बनी तो सभी वर्ग के विद्यार्थियों को पहली कक्षा से लेकर इंजीनियरिंग व मेडिकल तक की नि:शुल्क शिक्षा दी जाएगी। उन्होंने पूर्ववर्ती सरकार की तुलना करते हुए कहा कि पहले पांच रुपए में गरीबों को भरपेट भोजन दिया जाता था। आज वह योजना बंद हो गई है। राज्य में फैक्ट्रियों में ताला लग गया। 

मौके पर सुनील महतो, रोड़ेया सोरेन, सनातन माझी, राम दास हांसदा, सागेन पूर्ति, गणेश सरदार, हीरामणि मुर्मू, चंद्रावती महतो, सुधीर सोरेन, अवित्र सरदार, मनोज यादव, बबलू चौधरी, शंकर हेंब्रम, सुकुरमणि टूडू, मनोज सरदार, सुबोध सिंह सरदार, जयराम हांसदा, प्रशांत लायक मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ayodhya Ram temple s decision is of Supreme court BJP is taking false accolades says Hemant Soren