ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में 1000 करोड़ का अवैध खनन करने वाले आरोपियों के घर होगी कुर्की-जब्ती

झारखंड में 1000 करोड़ का अवैध खनन करने वाले आरोपियों के घर होगी कुर्की-जब्ती

प्रवर्तन निदेशालय ने झारखंड के साहिबगंज जिले में हुए 1000 करोड़ रुपये के अवैध खनन केस में आरोपियों, दाहू यादव और सुनील यादव के खिलाफ कुर्की-जब्ती का आदेश जारी किया है। शिकंजा और कस गया है।

झारखंड में 1000 करोड़ का अवैध खनन करने वाले आरोपियों के घर होगी कुर्की-जब्ती
Suraj Thakurलाइव हिन्दुस्तान,रांचीFri, 31 Mar 2023 05:53 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रवर्तन निदेशालय ने झारखंड के साहिबगंज जिले में हुए 1000 करोड़ रुपये के अवैध खनन केस में आरोपियों, दाहू यादव और सुनील यादव के खिलाफ कुर्की-जब्ती का आदेश जारी किया है। केवल इतना ही नहीं। दाहू यादव के बेटे राहुल और उसके पिता के खिलाफ भी गैर-जमानती वारंट जारी किया गया है। साहिबगंज में हुए 1000 करोड़ रुपये के अवैध खनन केस में मुख्य आरोपी पंकज मिश्रा के सहयोगियों चंदन और सूरज पंडित के खिलाफ भी वारंट जारी किया गया है। गौरतलब है कि कई बार समन किए जाने के बाद भी दाहू यादव और सुनील यादव ईडी के समक्ष पेश नहीं हुआ। 

आखिरी बार 18 जुलाई को पेश हुआ था दाहू
गौरतलब है कि साहिबगंज जिले में एक बाहुबली के रूप में पहचान रखने वाला दाहू यादव आखिरी बार 18 जुलाई को ईडी के समक्ष पेश हुआ था। उसने, रांची स्थित ईडी कार्यालय में हाजिरी लगाई थी। पेशी के बाद वह, मां की बीमारी का हवाला देकर साहिबगंज लौट गया था। इसके बाद से अब तक वो ईडी की रडार से बाहर है। ईडी ने धीरे-धीरे जांच का दायरा बढ़ाया और दाहू यादव के परिवार के सदस्यों एवं रिश्तेदारों के खिलाफ केस दर्ज किया। कई बार इश्तेहार भी चस्पा किया गया है। 

8 जुलाई को ईडी ने दाहू के ठिकानों पर की रेड
बता दें कि 8 जुलाई 2022 को ईडी ने पहली बार अवैध खनन मामले में पंकज मिश्रा और दाहू यादव सहित उसके करीबियों के कम से कम 18 ठिकानों पर छापेमारी की थी। ईडी ने साहिबगंज, राजमहल, बरहड़वा, मिर्जाचौकी, बरहेट और उधवा में छापा मारा था। छापेमारी के दौरान पंकज मिश्रा के आवास से 5 करोड़ 34 लाख रुपये की नगदी मिली थी। 27 अलग-अलग बैंक खातों में 11 करोड़ रुपये से अधिक नगदी जमा होने की जानकारी मिली थी जिसे ईडी ने जब्त कर लिया था। ईडी ने 30 करोड़ रुपये की कीमत वाला मालवाहक जहाज भी जब्त किया था जिसका संचालन पंकज मिश्रा और दाहू यादव किया करते थे। 20 जुलाई को पंकज मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन दाहू अभी भी पकड़ से बाहर है।