ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडकभी लालू की पार्टी को संभाल रहीं थीं अन्नपूर्णा, अब भाजपा में बड़ा कद; मोदी सरकार में दोबारा मंत्री

कभी लालू की पार्टी को संभाल रहीं थीं अन्नपूर्णा, अब भाजपा में बड़ा कद; मोदी सरकार में दोबारा मंत्री

आपको बता दें कि उस वक्त झारखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास और राज्य प्रमुख भूपेंद्र यादव ने अन्नपूर्णा देवी को भगवा खेमे में लाने में बड़ी भूमिका अदा की थी और लालू को जबरदस्त झटका दिया था।

कभी लालू की पार्टी को संभाल रहीं थीं अन्नपूर्णा, अब भाजपा में बड़ा कद; मोदी सरकार में दोबारा मंत्री
annapurna devi
Nishant Nandanविशाल कांत,रांचीSun, 09 Jun 2024 08:20 PM
ऐप पर पढ़ें

नरेंद्र मोदी तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री बन गए हैं। मोदी 3.0 का शपथ ग्रहण समारोह हुआ और कई कैबिनेट मंत्रियों ने भी शपथ लिया। इस लिस्ट में झारखंड के कोडरमा से भाजपा सांसद अन्नपूर्णा देवी का भी नाम है। अन्नपूर्णा देवी ने भी कैबिनेट पथ की शपथ ली है। 55 साल की अन्नपूर्णा देवी नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में शिक्षा राज्य मंत्री थीं। अन्नपूर्णा देवी ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में आयोग को अपनी संपत्ति का ब्योरा देते हुए बताया था कि उनके पास 13 करोड़ रुपयों की संपत्ति है। इस चुनाव में वो राज्य में सबसे बड़ी मार्जिन से चुनाव जीतने वाली नेता बनी हैं। कोडरमा लोकसभा सीट पर दूसरी बार अन्नपूर्णा देवी ने जीत का पताखा लहराया है।  इस चुनाव में उन्होंने CPI-ML के नेता विनोद सिंह को शिकस्त दी है। 

साल 2019 में करीब साढ़े 4 लाख वोट से वो जीती थीं। उन्होंने JVM (P) के अध्यक्ष और झारखंड के पहले मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को चुनाव में हराया था। साल 2019 के विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद बाबूलाल मरांडी ने अपनी पार्टी का विलय बीजेपी में कर दिया था और इस वक्त वो झारखंड बीजेपी के अध्यक्ष हैं।

यादव समुदाय से आती हैं अन्नपूर्णा देवी

अन्नपूर्णा देवी प्रभावशाली यादव समुदाय से ताल्लुक रखती हैं। कभी लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनता दल के लिए काम कर चुकीं अन्नपूर्णा ने साल 2019 के लोकसभा चुनाव के वक्त बीजेपी का दामन थाम लिया था। उस वक्त वो झारखंड आरजेडी की प्रमुख थीं। उस वक्त तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास और राज्य प्रमुख भूपेंद्र यादव ने अन्नपूर्णा देवी को भगवा खेमे में लाने में बड़ी भूमिका अदा की थी और लालू को जबरदस्त झटका दिया था।

साल 2019 में बीजेपी ने उन्हें कोडरमा से अपना प्रत्याशी बनाया था। उस वक्त बीजेपी ने अपने तत्कालीन सांसद रविंद्र राय का टिकट काट दिया था। एक वरिष्ठ बीजेपी नेता ने कहा कि उस वक्त वो मोदी कैबिनेट में जूनियर मिनिस्टर बनीं। 

अपने पति रमेश यादव के निधन के बाद अन्नपूर्णा देवी राजनीति में आईं। राजनीति में आने के बाद उन्होंने विधानसभा उपचुनाव जीता। वो बिहार विधानसभा में कोडरमा सीट का प्रतिनिधित्व करती थीं। हालांकि, बिहार के अलग होने के बाद कोडरमा झारखंड विधानसभा का हिस्सा बना।