DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  कोरोना मरीज मिलने के बाद धनबाद का बारामुड़ी बना कंटेनमेंट जोन, कर्फ्यू लगा
झारखंड

कोरोना मरीज मिलने के बाद धनबाद का बारामुड़ी बना कंटेनमेंट जोन, कर्फ्यू लगा

धनबाद मुख्य संवाददाताPublished By: Rupesh
Thu, 28 May 2020 05:23 PM
कोरोना मरीज मिलने के बाद धनबाद का बारामुड़ी बना कंटेनमेंट जोन, कर्फ्यू लगा

धनबाद शहर के बारामुड़ी में कोरोना का मरीज मिलने हड़कंप है। प्रशासन हाईअलर्ट पर है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बारामुड़ी को कंटेनमेंट जोन बनाकर कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसके लिए डीसी अमित कुमार और एसडीओ राज महेश्वरम ने आदेश जारी कर दिया है। बुधवार की सुबह से अगले आदेश तक कफ्र्यू जारी रहेगा। 

कंटेनमेंट जोन के सात किलोमीटर की परिधि को बफर जोन बनाया गया है।   बफर जोन में आने वाली होलसेल राशन दुकान एवं दवाई की दुकान को सुबह 7:00 बजे से संध्या 7:00 बजे तक खोलने की अनुमति दी है। कंटेनमेंट जोन एवं बफर जोन के अंदर आने वाले सभी सरकारी एवं निजी संस्थान भी अगले आदेश तक बंद रहेंगे।

एसडीओ ने बताया कि बारामुड़ी में कोरोना मरीज मिलने के बाद यह कार्रवाई की गई है। इसका उद्देश्य आमजनों को कोरोना के संक्रमण से बचाना है। उन्होंने बताया कि मरीज के निवास स्थान को ईपी सेंटर के रूप में चिह्नित कर बारामुड़ी को कंटेनमेंट जोन के रूप में चिह्नित कर उसे सील कर दिया गया है। वहां तत्काल प्रभाव से कफ्र्यू लगाया गया है। धनबाद के बीडीओ-सीओ को कंटेनमेंट जोन को तीन दिन तक सेनेटाइज करने की जिम्मेदारी दी गई है। कंटेनमेंट एरिया में घर-घर सर्वे करने और स्वास्थ्य की जांच के आदेश दिए गए हैं। जरूरी सामान की होम डिलीवरी होगी। 

कोरोना के हाई रिस्क में 16 लोग  : सदर अस्पताल के कोरोना संक्रमित लैब टेक्नीशियन के संपर्क में आए 16 लोगों को आईडीएसपी ने हाई रिस्क की श्रेणी में रखा है। इसमें ज्यादातर लोग सदर अस्पताल के कर्मचारी हैं। महिला लैब टेक्नीशियन के घरवाले को हाई रिस्क में रखा गया है। वहीं पुरुष लैब टेक्नीशियन के संपर्क में आनेवाले 10 लोग हाई रिस्क में हैं। हाई रिस्क वाले सभी लोगों के सैंपल की जांच पीएमसीएच में होगी।

दुकानें नहीं खुलेंगी: कफ्र्यू में सभी दुकानें, व्यावसायिक प्रतिष्ठान, ऑफिस, फैक्ट्री, गोदाम, साप्ताहिक हाट बाजार आदि की गतिविधियां तत्काल प्रभाव से बंद रहेंगी। सभी तरह के निर्माण तत्काल प्रभाव से स्थगित रहेंगे। सभी धार्मिक स्थल दर्शनार्थियों के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे।

आवागमन पर रोक: कर्फ्यू वाले इलाके में आवागमन और वाहन के परिचालन पर रोक रहेगी। मोटरसाइकिल, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, बस, ई-रिक्शा, रिक्शा के संचालन सहित किसी सार्वजनिक परिवहन सेवा के परिचालन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। अपवाद में स्वास्थ्य की तत्काल आवश्यकता को देखते हुए अस्पताल तक परिवहन की सुविधा को इससे बाहर रखा जाएगा। 

संबंधित खबरें