ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडसाहेबगंज में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद हत्या, चार में से तीन आरोपी नाबालिग

साहेबगंज में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद हत्या, चार में से तीन आरोपी नाबालिग

वारदात के बाद आरोपियों ने बच्ची की हत्या कर दी और उसका शव छिपा दिया, जिसे बाद में बरामद कर लिया गया। अधिकारी ने बताया कि चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

साहेबगंज में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद हत्या, चार में से तीन आरोपी नाबालिग
minor rape symbolic image
Sourabh JainPTI,रांचीFri, 21 Jun 2024 10:28 PM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड के साहेबगंज जिले में 8 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और इसके बाद गला घोंटकर उसकी हत्या करने का मामला सामने आया है। इस वारदात को तीन नाबालिगों समेत चार लोगों ने अंजाम दिया। इस बारे में शुक्रवार को जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारी ने बताया कि चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक चार आरोपियों में से एक की उम्र 20 साल है और बाकी तीन नाबालिग हैं, जिनकी उम्र करीब 16 साल है।

इस वारदात के बारे में बताते हुए बरहरवा उप-विभागीय पुलिस अधिकारी (SDOP) मंगल सिंह जामुदा ने मीडियो को बताया कि, 'घटना बुधवार रात को उस वक्त हुई जब आरोपी और उसके परिचितों ने बच्ची को खेत पर ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया। इसके बाद वे उसे एक सुनसान इमारत में ले गए, जहां उन्होंने फिर से उसके साथ बलात्कार किया।'

उन्होंने बताया कि इसके बाद आरोपियों ने बच्ची की गला घोंटकर हत्या कर दी और उसका शव छिपा दिया, जिसे बाद में बरामद कर लिया गया। अधिकारी ने बताया कि चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। 

नाबालिग बुधवार शाम से लापता थी। बच्ची की मां उसे घर में छोड़कर बाजार गई थी। जब वो बाजार से लौटी तो देखा कि बच्ची घर पर नहीं है। काफी खोजबीन के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला। घरवाले रात भर परेशान रहे। गुरुवार की सुबह एक निर्माणाधीन मकान के कमरे में बच्ची का शव पड़ा मिला। इस दौरान बच्ची के शरीर पर कई जगह नाखून के निशान थे और उसके मुंह में तंबाकू भी मिला। इसके अलावा कमर से नीचे कई जगह खून के निशान भी थे। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस के मुताबिक आरोपी बुधवार देर शाम बच्ची को चिप्स खिलाने व मोबाइल दिखाने के बहाने घर के सामने स्थित खेत की तरफ ले गए थे। इसके बाद उन्होंने बच्ची से खेत में सामूहिक दुष्कर्म किया। सभी आरोपी शराब के नशे में थे। जब बच्ची बेहोश हो गई, तो बच्ची को होश में लाने के लिए उनमें से एक ने उसके मुंह में तंबाकू डाल दिया, उसके बाद भी जब वह होश में नहीं आई तो बच्ची की गर्दन मरोड़कर उसकी हत्या कर दी और शव को गांव के ही एक निर्माणाधीन मकान में लाकर फेंक दिया।