अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरएसएस के द्वारा गुरु पूजन सह गुरु दक्षिणा उत्सव का आयोजन

सिमडेगा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा मंगलवार को संध्या पांच बजे से आनंद भवन में गुरु पूजन सह गुरु दक्षिणा उत्सव का आयोजन किया गया। जिसमें बौद्धिक कर्ता के रूप में झारखंड सह प्रांत संपर्क प्रमुख संजय कुमार आजाद मुख्य रूप से उपस्थित थे। अपने सम्बोधन में श्री आजाद ने कहा राष्ट्रीय स्वंय सेवक जनकल्याण की भावना से कार्य करता है। हमारा गुरु भगवा ध्वज है अपने दैनिक जीवन हमे समर्पण की भावना से कार्य करना चाहिए संघ के स्वंय सेवक समर्पण की भावना से ही जनकल्याण का कार्य करते है जनकल्याण की भावना होना जान कल्याण करना ही राष्ट्र की सबसे बड़ी सेवा है हमारी श्रद्धा हमारा विश्‍वास हमारा प्रेम सबो से एक समान होता है यह भावना हमे इस भगवा ध्वज से आती है। उन्‍होने कहा कि राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ का सबसे बड़ा कार्य जो अपने स्थापना काल से करते आ रहे है वह व्यक्ति निर्माण करना भारत के परम वैभव तक ले जाने का कार्य ही हमारा उद्देश्य है। जिला कार्यवाहक ने बताया कि वर्ष में एक बार स्वयंसेवक अपने गुरु के रूप में भगवा ध्वज के समक्ष धनराशि का समर्थन करते हैं और इसी धनराशि से संघ का पूरा वर्ष का खर्च चलता है गुरु दक्षिणा बिल्कुल गुप्त होती है संघ में किसी व्यक्ति के स्थान पर परम पवित्र भगवा ध्वज को ही अपना गुरु माना है और इसी भगवा ध्वज के समस्त दैनिक शाखा लगाई जाती है आज के कार्यक्रम काफी संख्या में स्वंय सेवकों ने भाग लिया ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Organizing Guru Dakshina Festivals with Guru Poojan by RSS