ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड सिमडेगाएनजीटी लागू, नहीं है बालू का स्टॉकिस्ट, कैसे होगा निर्माण कार्य

एनजीटी लागू, नहीं है बालू का स्टॉकिस्ट, कैसे होगा निर्माण कार्य

जिले में एनजीटी लागू होने के बाद नदियों से बालू का उठाव सरकार के नजर में बंद हो गया है। हालांकि चोरी छिपे बालू का उठाव और कारोबार बदस्तुर जारी...

एनजीटी लागू, नहीं है बालू का स्टॉकिस्ट, कैसे होगा निर्माण कार्य
हिन्दुस्तान टीम,सिमडेगाWed, 19 Jun 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

सिमडेगा, जिला प्रतिनिधि। जिले में एनजीटी लागू होने के बाद नदियों से बालू का उठाव सरकार के नजर में बंद हो गया है। हालांकि चोरी छिपे बालू का उठाव और कारोबार बदस्तुर जारी है। एनजीटी के बाद सरकार के द्वारा हर जिले में बालू का स्टॉकिस्ट बनाते हुए ऑनलाईन बालू बेचने की प्रक्रिया शुरु की गई है लेकिन जिले का दुर्भाग्य है कि जिले में खनन विभाग के द्वारा कोई स्टॉकिस्ट भी तय नहीं किया गया है। इस स्थिति में जिले के लोगों को बैद्य रुप में तो किसी भी कीमत पर बालू नहीं मिल सकता है। बालू नहीं मिलने के कारण मनरेगा से हो रहे कूप निर्माण कार्य, अबुआ आवास निर्माण कार्य, नल जल योजना, पीएम आवास जैसी कई योजनाएं पर ग्रहण लग गया है। इन योजनाओं से जुड़ने वाले अधिकतर लोग बेहद गरीब है जो चोरी छिपे मनमाने दाम पर बिक रहे बालू खरीदने में आसमर्थ है। लोगों ने डीसी से जिले में बालू उपलब्ध करवाने की मांग की है ताकि सरकारी विकास कार्य के साथ साथ नीजी कार्य भी सुलभता पुर्वक हो सके। इस संबंध में खनन निरीक्षक विश्वनाथ उरांव से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि वे अभी फिल्ड में है कार्यालय जाकर ही कुछ बता पाएगें।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।