DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › सिमडेगा › विधायक और डीसी ने वन विभाग के साथ मिलकर जंगली हाथियो से बचाव के लिए की चर्चा
सिमडेगा

विधायक और डीसी ने वन विभाग के साथ मिलकर जंगली हाथियो से बचाव के लिए की चर्चा

हिन्दुस्तान टीम,सिमडेगाPublished By: Newswrap
Fri, 17 Sep 2021 03:02 AM
विधायक और डीसी ने वन विभाग के साथ मिलकर जंगली हाथियो से बचाव के लिए की चर्चा

सिमडेगा जिला प्रतिनिधि

डीसी सुशांत गौरव की अध्यक्षता में गुरूवार को वन विभाग की समीक्षा बैठक हुई। मौके पर जिले के विभिन्न प्रखंडो में जंगली हाथियो के उत्पात पर चर्चा करते हुए हाथियो से बचाव पर विचार विर्मश किया गया। बैठक में विधायक विक्सल कोंगाड़ी हाथी प्रभावित गांव के ग्रामीणो के साथ उपस्थित थे। मौके पर ग्रामीणों ने बताया कि हाथी रात में खेतों पर घुसकर फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं एवं घरों को तोड़कर घरों में रखे अनाज को खा जा रहे है। ग्रामीणों ने डीसी बोलबा प्रखंड के कई गांवो में बिजली की समस्या की जानकारी देते हुए कहा कि अंधेरा होने की वजह से हाथी भगाने में काफी समस्या हो रही है। हाथियों के द्वारा बोलबा प्रखंड में 13 घर ध्वस्त करने और एक स्कूल का किचन घर तोड़कर चावल खाने की बात ग्रामीणो ने कही।

हाथी भगाने के लिए ग्रामीणो को दे प्रशिक्षण

डीसी ने सीओ, बीडीओ, रेंजर, वन रक्षी एवं ग्राम समिति को निर्देश देते हुए कहा कि वन विभाग से संबंधित जो भी फंड है, उसे निकालकर हाथी भगाने के लिए किन-किन सामग्री की जरूरत है उसकी सूची तैयार कर राशि व्यय करने का निर्देश दिया। हाथी को भगाने के लिए जरूरत पड़ने वाले समानो के लिए डीएफओ, एसडीओ, बीडीओ, सीओ, रेंजर एवं वनरक्षी के साथ बैठक करने को कहा। इसके अलावे हाथी भगाने के लिए ग्रामीणो को प्रशिक्षण देने की बात भी डीसी ने कही।

मधुमक्खी पालन कर हाथी से करे बचाव

बैठक में बताया गया कि मधुमक्खी पालन जिस क्षेत्र में होता है उस क्षेत्र से हाथी भाग जाते हैं। जिस पर डीसी ने प्रभावित गांवो में मधुमक्खी पालन को बढ़ावा देने की बात कहते हुए मधुमक्खी पालन के लिए जगह का चिन्हित करते हुए प्रतिवेदन समर्पित करने का निर्देश दिया।

डीसी ने की शिक्षा विभाग की भी समीक्षा

इधर डीसी ने शिक्षा विभाग की भी समीक्षा बैठक की। साथ ही अधिकारियों को स्‍कूलों का निरीक्षण कर शिक्षकों के काम पर नजर रखने का निर्देश दिया। बताया गया कि डिजिटल एजुकेशन के लिए सभी प्रखंडों से चार चार शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। बैठक में शिक्षा विभाग के कई अधिकारी उपस्थित थे।

संबंधित खबरें