DA Image
28 नवंबर, 2020|9:31|IST

अगली स्टोरी

छठ तालाब में श्रद्धालुओं को है सुविधा का है इंतेजार

default image

जिले में आस्था का महापर्व छठ पूजा धूमधाम के साथ मनाया जाता है। जिला मुख्यालय में डिप्टीटोली स्थित तालाब को छठ तलाब के नाम से जाना जाता है। नवबंर माह के अंत में छठ पूजा का त्योहार मनाया जाएगा लेकिन छठ तालाब की स्थिति बदतर बनी हुई है। तालाब के चारो ओर गंदगी का अंबार है। तालाब की सीढी भी टुट फुट गई है। गंदगी के कारण तालाब के आसपास बदबु भी आ रही है। तालाब का पानी भी काफी दुषित नजर आ रहा था। छठ तालाब में 50 से ज्यादा परिवार के लोग छठ पूजा करते है। तीन दिनो तक तालाब में मेला सा दृश्य रहता है।

छठ पूजा से पूर्व हो जाएगी तालाब की सफाई:वार्ड पार्षद

वार्ड पार्षद शीला टोप्पो ने कहा कि हर वर्ष छठ पूजा से पूर्व तालाब की साफ सफाई कर दी जाती है। उन्होने कहा कि इस वर्ष भी पूजा से पूर्व बेहतर सफाई करा दी जाएगी ताकि श्रद्धालुओ को कोई परेशानी न हो। उन्होने कहा कि छठव्रतियो को बेहतर सुविधा देने के लिए वे प्रतिबद्ध है। उन्होने कहा कि छठ पूजा में उनके द्वारा प्रसाद की भी व्यवस्था की जाती है।

क्या कहते है श्रद्धालु :

गुलजारगली निवासी अरूण ठाकुर ने कहा कि पुरे वर्ष भर मे केवल छठ पूजा के मौके पर ही तालाब की सफाई होती है। उन्होने तालाब को हमेशा साफ सुथरा रखने की अपील की है। ताकि तालाब की पवित्रता बनी रही।

गृहणी संजु देवी ने क छठ पर्व को देखते हुए तालाब की साफ सफाई करवाने की मांग की है। इधर तालाब के किनारे पॉल लाईट, पहुंच पथ की मरम्मत, शौचालय और स्नानागर का निर्माण की मांग भी की है। श्याम पथ निवासी कमला देवी ने भी तालाब की अविलंब सफाई कराने की मांग करते हुए नप से तालाब के सुंदरी करण करवाने का भी आग्रह किया है। अनिता देवी ने कहा कि छठपर्व मे स्वच्छता को विशेष ख्याल रखा जाता है। इसलिए सरोवर की बेहतर सफाई जरूरी है। छठ तालाब को सालो भर स्वच्छ और साफ रखने की बात कहते हुए घाट की साफ सफाई, पेड़ों की टहनियों की कटाई, गाड़ियों के पार्किंग के लिए व्यवस्था आदि के लिए भी कार्य करने की अपील की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Devotees are waiting for convenience in Chhath pond