DA Image
18 जनवरी, 2021|6:00|IST

अगली स्टोरी

शहर हुए वीरान, पर्यटन स्थल हुए गुलजार

default image

सिमडेगा हिन्‍दुस्तान प्रतिनिधि

जिला मुख्यालय और प्रखंडो में नववर्ष के मौके पर लोगो का उत्साह चरम पर रहा। नए साल के स्वागत की तैयारी कई दिनों पहले से ही शुरू कर दी गई थी। 31 दिसम्बर की रात्रि लोग बेताबी से घड़ी की दोनो सुइयों के बारह के करीब आने की प्रतीक्षा करते रहे। बारह बजने के साथ ही वातावरण आतिशबाजी से गूंज उठा। बम पटाखों की आवाज के साथ लोगो ने अपनी खुशी का इजहार किया। वहीं मोबाईलों वाटस एप्‍प से भी शुभकामना संदेश भेजने का सिलसिला शुरू हो गया। एक जनवरी को पर्यटन स्थलों में लोगो की काफी भीड़ उमड़ी। शहर के सबसे नजदीकी पर्यटन स्थल केलाघाघ में काफी संख्या में पहुंचे लोगो ने वनभोज का आयोजन कर नए साल का स्वागत किया। यहां नृत्य करने वालो की टोलियां माहौल में उत्साह घोलती रही। लोगो ने बोलबा के वनदुर्गा, कुरडेग के दानगद्दी, ठेठईटांगर के घुमरी और राजाडेरा, बानो के केतुंगाधाम, कोलेबिरा के भवंर पहाड़ का भी रूख किया। यहां भी कई लोग सपरिवार पहुंचे।

केलाघाघ में बनती रही जाम की स्थिति

पर्यटन स्थलो की सुरक्षा को लेकर डीसी और एसपी के निर्देश पर प्रशासन और पुलिस के पदाधिकारी चौकस रहे। इस कारण अप्रिय घटनाओं पर लगाम लगा रहा। इधर केलाघाघ में पुलिस के जवान यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाने में लगे रहे। हालांकि काफी भीड़ होने के कारण यहां बार-बार जाम की स्थिति बनती रही। मौके पर बीडीओ,सीओ पंकज कुमार,थाना प्रभारी दयानंद कुमार उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:City deserted Gulzar became a tourist destination