DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मछली बीज के उत्पादन में जुट जाएं : चौधरी

जिला मत्स्य पदाधिकारी अरूप कुमार चौधरी ने शुक्रवार को जिले के मत्स्य मित्रों और मत्स्यजीवी समिति के साथ बैठक की। बैठक में उन्होंने कहा कि मछली बीज के उत्पादन का समय आ गया है। जिले में मत्स्य बीज तैयार करने के लिए स्पॉन का वितरण कार्य प्रारंभ हो गया है। इस कारण सारे मत्स्य मित्र और समिति के लोग अभी से ही इस कार्य में जुट जाएं, ताकि समय पर मछली का बीज तैयार कर तालाब और जलाशय में डाले जा सकें। चौधरी ने बैठक में कहा कि मछुआरों का बीमा कराया जाएगा, इसलिए सभी लोग अपना आधार कार्ड और बैंक का खाता नंबर अवश्य जिला कार्यालय के मुहैया करायें। बैठक में जिला मत्स्य पदाधिकारी ने जानकारी दी कि जिले में 12 जून से कृषि जागृति रथ प्रारंभ होगा। जिले के नौ प्रखंडों में तीन चरणों में अलग-अलग तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। कार्यक्रम मे पहले दिन विभाग की ओर से परिसंपत्ति का वितरण किया जाएगा। दूसरे दिन गोष्ठी होगी और आपसी संवाद होंगे। तीसरे दिन कृषि, मत्स्य और पशुपालन विभाग की ओर से चलायी जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। चौधरी ने कहा कि इस कार्यक्रम के लिए तीन वरीय पदाधिकारियों को जिम्मेवारी सौंपी गयी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए जिला सहकारिता पदाधिकारी, जिला पशुपालन पदाधिकारी और जिला मत्स्य पदाधिकारी को वरीय पदाधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने ने बैठक में उपस्थित सारे लोगों से आग्रह किया कि कृषि जागृति रथ में अधिक से अधिक संख्या में लोग आएं और इसका लाभ उठायें। बैठक में जिले के कई मत्स्य मित्र और समिति के सदस्य उपसथित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Join in the production of fish seeds