DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुचाई में वज्रपात से चाची और भतीजी की मौत

कुचाई में आंधी के साथ हुई बारिश के दौरान वज्रपात का कहर देखने को मिला। कुचाई के दलंभाग से गोमियाडीह लौट रही चाची-भतीजी की मौत वज्रपात से हो गई। घटना सोमवार शाम की है। कुचाई पुलिस ने लाश का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जानकारी के अनुसार कुचाई के दलभंगा से गोमियाडीह गांव की 38 वर्षीय महिला रूपकला माहली अपनी भतीजी दलभंगा की 29 वर्षीय बुधनी बेसरा के साथ सोमवार की शाम लगभग साढ़े पांच बजे पैदल गोमियाडीह लौट रही थी। इसी दौरान आसमान में धीरे-धीरे काले बादल छाने लगे। साथ ही आसमान में बिजली चमकने लगी। बारिश शुरू नहीं होने के कारण चाची-भतीजी दोनों पैदल ही गोमियाडीह के और बढ़ रही थी। जैसे ही वे बारूहातु स्कूल के समीप पहुंचीं, वैसे ही गर्जन व आंधी के साथ बारिश शुरू हो गई। इसी दौरान सड़क पर हुए वज्रपात से झुलस कर चाची रूपकला माहली एवं भतीजी बुधनी बेसरा की मौत हो गई। वज्रपात की घटना सुदूरवर्ती क्षेत्र में होने के कारण महिलाओं को अस्पताल भी नहीं पहुंचाया जा सका। आसपास के ग्रामीणों ने वज्रपात से हुई मौत की सूचना पुलिस व मृतक के परिजनों को दी। इसके बाद मंगलवार को पुलिस ने लाश का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Aunt and niece from Thunderbolt