DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

76 बैंकों में ताला, 70 करोड़ का कारोबार प्रभावित

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर जिले के तमाम राष्ट्रीयकृत बैंकों में बुधवार से दो दिनी हड़ताल से जिले भर में एसबीआई, यूको, सेंट्रल, बैंक ऑफ इंडिया समेत अन्य राष्ट्रीयकृत बैंक की 76 शाखाओं में ताले लटक गए हैं। बैंक के पदाधिकारी व कर्मचारियों के हड़ताल पर रहने से एक दिन में करीब 70 करोड़ का कारोबार प्रभावित होने की संभावना है। बैंक यूनियन्स के संयोजक कल्याण श्रीवास्तव ने बताया कि जिले के राष्ट्रीयकृत बैंक के 76 शाखाएं हंै। इनमें रोजाना करीब 70-80 करोड़ का कारोबार होता है। यह कारोबार सीधे ठप पड़ गया है। एटीएम को हड़ताल से मुक्त रखा गया है।

कई एटीएम बंद तो, कहीं नहीं है कैश : राष्ट्रीयकृत बैंक की शाखाओं में बुधवार से दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल शुरू होने के साथ ही एटीएम में कैश की किल्लत होने लगी है। कई राष्ट्रीयकृत बैंकों के एटीएम बंद थे। जो एटीएम खुले थे, वहां कैश नही थी। ग्राहकों को कैश के लिये एक एटीएम से दूसरे एटीएम का चक्कर लगाना पड़ा।

आज भी बंद रहेगा बैंक : बैंक की राष्ट्रव्यापी हड़ताल दूसरे दिन यानी 31 मई को भी जारी रहेगा। गुरुवार को भी सारे बैंक बंद रहेंगे। सिर्फ एचडीएफसी व एक्सिस बैंक खुला रहेगा।

बैंक बंद रहने से बाजार में दिखा असर : राजमहल। राष्ट्रीयकृत बैंकों में बुधवार से जारी दो दिनी हड़ताल के पहले दिन शहर के एसबीआई के मुख्य शाखा, एडीबी, केनरा बैंक में ताले लटके रहे। ग्राहक धूप में बैंक में अपने काम से पहुंचे। लेकिन बंद रहने से वापस लौटना पड़ा। बैंक हड़ताल का असर बाजार में भी देखने को मिला ।

बैंक कर्मचारियों का प्रदर्शन

यूनाईटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर जिले के तमाम राष्ट्रीयकृत बैंकों में बुधवार से दो दिनी हड़ताल शुरू हो गई है। इससे ग्राहकों को काफी परेशानी हो रही है। हड़ताल के पहले दिन पूर्वाह्न 11 बजे हड़ताली कर्मचारी चौक बाजार स्थित एसबीआइ मेन ब्रांच पहुंच सरकारी नीति के विरोध व मांगों के समर्थन में प्रदर्शन किया। बैंक यूनियन्स के संयोजक कल्याण प्रसाद श्रीवास्तव ने बताया कि बैंक कर्मचारी कड़़ी मेहनत करने के बावजूद वेतन वृद्धि के लिये वेतन बिल में आईबीए के दो फीसदी वृद्धि के मामूली प्रस्ताव लाना निंदनीय है। सैलरी में बढ़त का ठोस ऑफर मिलनी चाहिए। आईबीए द्वारा वेतन पुनरीक्षण में देरी की जा रही है। सरकार की इस उदासीन रवैया से कर्मचारी व अधिकारी नाराज है। श्री श्रीवास्तव ने अगर सरकार मांगें पूरी नहीं करती है तो आगे बेमियादी हड़ताल होगा। मौके पर मुख्य ब्रांच के उप प्रबंधक एसके चौधरी, प्रबंधक अजय कुमार पाठक, कुलदीप कुमार, मदनलाल झा, बीके पाल, दीपक कुमार, राजकिशोर झा, विक्रांत विक्रम, विजय कुमार जोशी, विवेक कुमार, दीपक रजक, सत्यजीत चक्रवर्ती, केके चौधरी, संतोष कुमार, चंदन कुमार, अशोक कुमार सिंह आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:76 banks lock, 70 crore turnover affected