ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रांचीनाबालिग से दुष्कर्म मामले में युवक दोषी करार, सजा 27 को

नाबालिग से दुष्कर्म मामले में युवक दोषी करार, सजा 27 को

पोक्सो मामले के विशेष न्यायाधीश आसिफ इकबाल की अदालत ने बुधवार को नाबालिग से दुष्कर्म मामले में अभियुक्त प. बंगाल के पुरूलिया निवासी मिथुन महतो को...

नाबालिग से दुष्कर्म मामले में युवक दोषी करार, सजा 27 को
हिन्दुस्तान टीम,रांचीThu, 23 May 2024 02:30 AM
ऐप पर पढ़ें

रांची, संवाददाता। पोक्सो मामले के विशेष न्यायाधीश आसिफ इकबाल की अदालत ने बुधवार को नाबालिग से दुष्कर्म मामले में अभियुक्त प. बंगाल के पुरूलिया निवासी मिथुन महतो को दोषी करार दिया है। साथ ही सजा की बिंदु पर सुनवाई के लिए 27 मई की तारीख निर्धारित की है। घटना को लेकर पीड़िता के परिजन ने नगड़ी थाना में चार अगस्त 2021 को प्राथमिकी दर्ज कराई थी।
अभियुक्त को पुलिस ने 19 फरवरी 2022 को गिरफ्तार किया था, तब से वह जेल में ही है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, अभियुक्त मिठाई दुकान में काम करता था। उसी में नाबालिग भी काम करती थी। दोनों में दोस्ती हुई और अभियुक्त ने नाबालिग के साथ शारीरिक संबंध बनाया। इसकी जानकारी परिजन को तब हुई, जब वह गर्भवती हो गई। मामले की सुनवाई के दौरान अभियोजन की ओर से सात गवाहों को प्रस्तुत किया गया था।

घटना के तीन साल बाद अभियुक्त ने जुवेनाइल होने का ठोका था दावा

अभियुक्त जेल में रहते हुए अपने वकील के माध्यम से पिछले महीने जुवेनाइल होने की याचिका दाखिल की थी। अभियुक्त की ओर से किसी प्रकार का कोई जन्म प्रमाणपत्र दाखिल नहीं किया गया। अदालत ने उसकी उम्र की जानकारी लेने के लिए मेडिकल बोर्ड को लिखा। मेडिकल बोर्ड ने 4 अप्रैल 2024 को उसकी उम्र 26 से 28 साल के बीच बताया। इसके आधार पर अदालत ने उसकी जुवेनाइल याचिका खारिज कर दी। अभियुक्त ने अपनी याचिका में कहा था कि घटना के समय उसकी उम्र 18 साल से कम थी। जबकि, मेडिकल बोर्ड के अनुसार उसकी उम्र घटना के समय 23 साल से अधिक थी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।