ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड रांचीजहां हुए थे कम मतदान, वहां मत प्रतिशत बढ़ाने में जुटा प्रशासन

जहां हुए थे कम मतदान, वहां मत प्रतिशत बढ़ाने में जुटा प्रशासन

जिले के जिन मतदान केंद्रों में वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में कम मत पड़े थे, उन मतदान केंद्रों में मतों का प्रतिशत बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन काफी...

जहां हुए थे कम मतदान, वहां मत प्रतिशत बढ़ाने में जुटा प्रशासन
हिन्दुस्तान टीम,रांचीWed, 03 Apr 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

खूंटी, संवाददाता।
जिले के जिन मतदान केंद्रों में वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में कम मत पड़े थे वहां मतों का प्रतिशत बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन काफी गंभीर है। इसी कड़ी में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीसी लोकेश मिश्र, एसडीएम अनिकेत सचान मंगलवार को खूंटी प्रखंड के मतदान केंद्र संख्या 123, उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय, मारंगहातू पहुंचे। जहां कुल 315 में से मात्र 18 मतदाताओं ने वोट किया था, जो 5.71 प्रतिशत था। ज्ञात हो कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान पत्थलगड़ी आंदोलन चरम पर था, जिसके कारण पत्थलगड़ी प्रभावित इलाकों में मतदान का प्रतिशत कम रहा था। इसी कड़ी में मारंगहातू में डीसी की अध्यक्षता में माबूथ जागरुकता दल की बैठक आयोजित की गई, ताकि हर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें।

बैठक में बताया गया कि स्वीप के तहत जिले भर में मतदाता जागरुकता अभियान चलाए जा रहे हैं। बूथ जागरुकता दल के माध्यम से संबंधित क्षेत्र में बूथ स्तर पर लोगों को मतदान करने हेतु प्रेरित किया जाए। बीएलओ, आंगनबाड़ी सेविकाओं, सहियाओं द्वारा जागरुकता अभियान के दौरान मतदाताओं को जागरूक किया जाय, ताकि जिला अंतर्गत लोकतंत्र के महापर्व में सभी मतदाताओं की भागीदारी सुनिश्चित हो तथा सशक्त लोकतंत्र के उद्देश्यों की पूर्ति हो। डीसी ने मतदाताओं को जागरूक करने के क्रम में कहा कि हमारा प्रयास है कि सभी मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की सुविधा के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए।

अभी भी मतदाता सूची से जुड़ सकते हैं छूटे हुए लोग

बैठक में डीसी कहा कि मतदान के लिए योग्य जिन लोगों के नाम मतदाता सूची में किसी वजह से नहीं जुड़ सके हैं वे फॉर्म-6 भरकर जमा कर सकते हैं। छूटे हुए योग्य नागरिक नाम जुड़वाने के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया की भी मदद ले सकते हैं। वोटर हेल्पलाइन एप एवं सक्षम एप की जानकारी भी दी गई। उन्होंने जानकारी दी कि जिले में मतदान की तिथि 13 मई है और फॉर्म 6 प्राप्त करने की आखिरी तिथि 15 अप्रैल है। साथ ही किसी भी शिकायत और सूचना के लिए 1950 हेल्पलाइन नंबर की भी जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची में अपने नाम का मिलान करें कि आपका नाम किस मतदान केन्द्र पर है, ताकि आप अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। बताया गया कि कभी जानकारी के अभाव से तो कभी जागरुकता की कमी से कितने मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने में असफल रह जाते हैं। पिछले चुनाव की तुलना में सभी मतदाता आगे आएं इस हेतु उन्हें मतदान के अधिकार की उपयोगिता से अवगत कराया गया। इससे उन्हें उनके मताधिकार का प्रयोग से पूर्ण रूप से जागरूक कराने के प्रयास जारी हैं।

इन मतदान केंद्रों में हुई थी कम वोटिंग

बूथ संख्या बूथ का नाम कुल मतदाता प्राप्त मतदान प्रतिशत

136 प्राथमिक विद्यालय, तिनतिला 722 1 0.14

139 उत्क्रमित मध्य विद्यालय, कुरूंगा 697 61 8.57

150 मध्य विद्यालय तुबिल 965 102 10.57

152 प्राथमिक विद्यालय, कटुई 701 103 14.69

144 प्राथमिक विद्यालय, कोचांग 989 206 20.83

148 उत्क्रमित मध्य विद्यालय, साके 882 203 23.02

149 मध्य विद्यालय, सिंजुड़ी 660 171 25.91

296 राउ सह मध्य विद्यालय, आराहंगा-1 759 228 30.04

123 उतक्रमित प्राथमिक विद्यालय, मारंगहातू 315 18 5.71

152 राजकीय मध्य विद्यालय, हाकाडुबा 612 82 13.4

144 राजकीय प्राथमिक विद्यालय, कुमकुमा 984 230 23.37

131 आंगनबाड़ी केंद्र, बरबंदा 450 129 28.67

288 राजकीय मध्य विद्यालय, सलगा 542 157 28.97

157 पूर्व उप्रा विद्यालय, हाबुईडीह 444 131 29.5

113 राउम विद्यालय, खटंगा, पश्चिमी भाग 861 262 30.43

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें