DA Image
3 दिसंबर, 2020|7:17|IST

अगली स्टोरी

सात साल की बच्ची से मौसा ने किया दुष्कर्म

default image

पुंदाग ओपी क्षेत्र के चापू टोली के रहने वाले एक व्यक्ति ने अपनी साली की सात वर्षीय बेटी को ही हवस का शिकार बनाया है। इस वारदात को उसने उस समय अंजाम दिया, जब घर पर कोई नहीं था। हालांकि, पुंदाग पुलिस ने मामले की जानकारी मिलते ही आरोपी मौसा अरुण साव को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में उसने पुलिस के समक्ष अपना गुनाह भी कुबूल किया है। वहीं पुलिस ने नाबालिग लड़की का सदर अस्पताल में मेडिकल कराया है। बुधवार को न्यायालय में नाबालिग का 164 का बयान कराया जाएगा। मामले में नाबालिग के बयान पर आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुंदाग ओपी पुलिस के अनुसार आरोपी की कोरोना जांच रिपोर्ट आने के बाद ही जेल भेजा जाएगा।

आवाज नहीं हो, इसलिए मुंह में ठूंस दिया था कपड़ा :

नाबालिग की मां ने पुलिस को बताया कि वह और उसकी बहन दोनों ही मजदूरी का काम करती हैं। उसकी दो बेटियां हैं। वहीं, उसकी बहन के दो बेटे हैं। रोज की तरह सोमवार को भी दोनों बहनें मजदूरी करने के लिए घर से सुबह ही निकल गई थी। उसकी बहन के पति अरुण और बच्चे घर पर ही थे। दिन के ग्यारह बजे अरुण ने तीनों बच्चों को सामान खरीदने के लिए बाजार भेज दिया, जबकि उसकी एक सात साल की पुत्री घर पर ही थी।

आरोपी अचानक कमरे में घुसा। नाबालिग पीड़िता को पकड़ा। वह शोर मचाने लगी। इसी क्रम में उसने पीड़िता के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया। शाम में जब वह लौटी, तब पीड़िता को डरी-सहमी देखकर पूछा क्या हुआ है। तब उसने अरुण की करतूत के बारे में उन्हें बताया। इसके बाद वह अपनी बेटी को लेकर सीधे पुंदाग ओपी पहुंची और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया। डरी-सहमी है नाबालिग लड़कीपुलिस के अनुसार नाबालिग लड़की काफी डरी हुई है। वह ठीक से बात भी नहीं कर पा रही है। उसके अंगों में दर्द भी है, जिस कारण वह ठीक से चल-फिर भी नहीं पा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Warts molest a seven-year-old girl