DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईद के चांद का इंतजार, बाजार हुआ गुलजार

ईद के चांद का इंतजार, बाजार हुआ गुलजार

1 / 4रोजेदारों को अब ईद के चांद का बेसब्री से इंतजार है। ईद उल फित्र की नमाज ईदगाहों और मस्जिदों में शुक्रवार या शनिवार को अदा की जाएगी। ईद को लेकर शहर के बाजार गुलजार हैं। रोजेदारों ने खरीदारी तेज कर...

ईद के चांद का इंतजार, बाजार हुआ गुलजार

2 / 4रोजेदारों को अब ईद के चांद का बेसब्री से इंतजार है। ईद उल फित्र की नमाज ईदगाहों और मस्जिदों में शुक्रवार या शनिवार को अदा की जाएगी। ईद को लेकर शहर के बाजार गुलजार हैं। रोजेदारों ने खरीदारी तेज कर...

ईद के चांद का इंतजार, बाजार हुआ गुलजार

3 / 4रोजेदारों को अब ईद के चांद का बेसब्री से इंतजार है। ईद उल फित्र की नमाज ईदगाहों और मस्जिदों में शुक्रवार या शनिवार को अदा की जाएगी। ईद को लेकर शहर के बाजार गुलजार हैं। रोजेदारों ने खरीदारी तेज कर...

ईद के चांद का इंतजार, बाजार हुआ गुलजार

4 / 4रोजेदारों को अब ईद के चांद का बेसब्री से इंतजार है। ईद उल फित्र की नमाज ईदगाहों और मस्जिदों में शुक्रवार या शनिवार को अदा की जाएगी। ईद को लेकर शहर के बाजार गुलजार हैं। रोजेदारों ने खरीदारी तेज कर...

PreviousNext

रोजेदारों को अब ईद के चांद का बेसब्री से इंतजार है। ईद उल फित्र की नमाज ईदगाहों और मस्जिदों में शुक्रवार या शनिवार को अदा की जाएगी। ईद को लेकर शहर के बाजार गुलजार हैं। रोजेदारों ने खरीदारी तेज कर दी है।

राजधानी में सुबह से ही बाजार में भीड़ जुटनी शुरू हो रही है, तो पूरी रात चहल-पहल दिख रही है। फुटपाथ से लेकर प्रमुख दुकानों और शॉपिंग मॉल में खाने-पीने के सामान से लेकर कपड़े और जूते की दुकानें भी सज गई हैं। सबसे ज्यादा रौनक अपर बाजार, मेन रोड, शास्त्री मार्केट, चर्च कांप्लेक्स, रोस्पा टॉवर और डेली मार्केट में दिखाई दे रही है। कई प्रतिष्ठानों में पैर रखने तक की जगह नहीं है।

गरारा-शरारा ट्रेंड में

इस ईद नवाबी अंदाज में गरारा के साथ जरकन वर्क की आकर्षक कुर्ती ट्रेंड में है। वहीं दूसरी ओर 70 के दशक का फैशन भी सिर चढ़कर बोल रहा है। शरारा पर शॉर्ट कुर्ती भी महिलाओं को खूब लुभा रही है। हालांकि शरारा सूट बीते दो सालों से चलन में है। लेकिन पिछले साल यह लॉंग कुर्ती के साथ ट्रेंड में थी, वहीं इस बार थाइज लेंथ की शॉर्ट कुर्तियां ज्यादा चलन में हैं। नवाबी दौर की याद दिलाता गरारा सूट इस बार युवतियों को खूब भा रहा है।

चर्च रोड बाजार में भीड़ का नजारा

चर्च रोड इलाके में शृंगार की सबसे अधिक दुकानें सजी हैं। इस वजह से महिलाओं की भीड़ सबसे ज्यादा इसी इलाके में दिखाई दी। महिलाओं ने मनपसंद रंगों की चूड़ियां खरीदीं। छोटी बच्चियां भी इनमें शामिल थीं।

कुर्ता दुकानों में उमड़ी भीड़

ईद बाजार में कपड़ों की कई रेंज उपलब्ध है। 230 रुपये से लेकर पांच हजार रुपये तक का कुर्ता-पायजामा बाजार में बिके। मुम्बई, लखनऊ, अहमदाबाद, सूरत, कोलकाता से मंगवाए गए कुर्ता और पायजामे की खूब बिक्री हुई। नमाज अदा करने के लिए रोजेदार कुर्ता-पायजामा की दुकान में खरीदारी करते दिखाई दिए। टोपी भी सूत से बनी ली। 10 रुपये लेकर 30, 40 और 60 रुपये की टोपी बाजारों में बिकी।

दर्जी की दुकानों पर भीड़

ईद की तैयारी को लेकर घरों से लेकर बाजारों में चहल-पहल देखने को मिल रही है। सभी महिलाएं अपने कपड़ों को फाइनल टच देने में जुटी हैं, तो वहीं जो बाहर से आए हैं वे दरजियों को मनाते दिखे। पुरुलिया रोड स्थिथ लुक टेलर के शमीम ने बताया कि जितने लोगों का कपड़ा सिल चुका है। उन्हें डिलीवरी देने के लिए एक अलग से आदमी रखा गया, ताकि दुकान में अफरातफरी नहीं मचे।

खुशबू से सराबोर रहा बाजार

खुशबूदार इत्र के बिना ईद की बात अधूरी रह जाती है। बाजार में कई किस्मों के इत्रों की बिक्री हो रही है। चंपा, चमेली, मोगरा, रात की रानी और रोज सेंट खूब बिके। न्यूनतम 10 रुपये से लेकर 100 रुपये तक के इत्र बाजार में उपलब्ध हैं। विक्रेताओं ने बताया कि महंगाई ने इस कारोबार को नहीं छोड़ा है। इस वर्ष कृत्रिम इत्र की डिमांड अधिक है।

बनारस का लच्छा-सेवई

ईद में मिठास घोलने के लिए उर्दू लाइब्रेरी के पास लगी दुकानों में लच्छेदार सेवईयां, खजूर, जयमेवा की खरीदारी के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। सेवईयों की दुकान लगाए मो असगर ने बताया कि लोग छोटी सेवईयां सबसे ज्यादा लेते हैं। इसको दूध में डालकर खाने का मजा बाकी सभी चीजों से अलग होता है। इसका रेट 60 रुपये से 80 रुपये किलो के बीच है। वैसे बाजार में 55 से लेकर 140 रुपए तक सेवईयां बिक रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Waiting for Eid's moon, Market Gulzar