DA Image
2 अगस्त, 2020|10:40|IST

अगली स्टोरी

धनेश्वर मुंडा से मिले आदिवासी संगठन, धार्मिक भावना को न पहुंचे ठेस किया आग्रह

default image

विहिप के आमंत्रण पर अयोध्या जाने वाले नगड़ी निवासी धनेश्वर राम मुंडा से रविवार को सरना आदिवासियों का प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। इस दौरान आमंत्रण पर धनेश्वर मुंडा अयोध्या राम मंदिर के शिलान्यास में आदिवासी समाज का प्रतिनिधि बनकर जा रहे हैं। इस पर विचार विमर्श किया। बातचीत के क्रम में सरना समाज के लोगों ने धनेश्वर से आग्रह किया है कि आपके अयोध्या जाने से आदिवासी समाज का धार्मिक-सामाजिक व्यवस्था व उससे जुड़ी हुई आस्था विश्वास-भावना को ठेस न पहुंचे और आदिवासी अस्तित्व पर कोई आंच न आए। इस पर ध्यान रखने को कहा गया। इसी क्रम में सरना आदिवासी समुदाय में किसी भी तरह का असमंजस्य की स्थिति उत्पन्न न हो। इस पर चर्चा की गई। लोगों की बात सुनने के बाद धनेश्वर मुंडा ने कहा कि मैं आदिवासी सरना समाज का प्रतिनिधि नहीं हूं, बल्कि मैं व्यक्तिगत रूप से अयोध्या जा रहा हूं। वहां मैं सरना आदिवासी समाज के विषय में किसी प्रकार की कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। उन्होंने ने कहा कि मैं सरना आदिवासी हूं, जो मुंडा जनजाति समुदाय से आता है और आदिवासी हिंदू नही है। मुलाकात करने वालों में अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद की कुंदरसी मुंडा, पवन तिर्की, सुनीता मुंडा, सुनीता कच्छप, प्रकाश मुंडा के अलावा केंद्रीय सरना समिति के नारायण उरांव, सोनू मुंडा, अरविंद गाड़ी, सरना प्रार्थना सभा से संजय कुजूर, सोनू खलखो, संगीता कच्छप, अनिल कच्छप सहित अन्य शामिल थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Tribal organizations met Dhaneshwar Munda did not hurt religious sentiments