DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  हटिया में दो घरों में चोरों ने जेवरात समेत 18 लाख की कर ली चोरी

रांचीहटिया में दो घरों में चोरों ने जेवरात समेत 18 लाख की कर ली चोरी

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:20 AM
हटिया में दो घरों में चोरों ने जेवरात समेत 18 लाख की कर ली चोरी

रांची। वरीय संवाददाता

रांची के जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र में चोरी की घटनाएं बढ़ गई है। आए दिन चोर चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। पुलिस इन चारों पर अंकुश लगाने में पुरी तरह से फेल हो चुकी है। हटिया पटेल नगर में चोरों ने एक ही रात दो बंद घरों का ताला तोड़कर जेवरात समेत 18 लाख रुपए से ज्यादा का सामान की चोरी कर ली। चोरों ने इस वारदात को 17 से 25 मई के बीच तब अंजाम दिया, जब दोनो परिवार के लोग घर पर ताला बंदकर अपने पैतक गांव गए हुए थे। इस संबंध में राजभाषा विभाग में कार्यरत विनय कुमार और उनके किराएदार रेलवे कर्मी रामबाबू टुपाडा ने जगन्नाथपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। दर्ज प्राथमिकी के आधार पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

राजभाषा विभाग के कर्मी के घर 16 लाख के जेवरात ले उड़े चोर

राजभाषा विभाग में कार्यरत विनय कुमार ने बताया कि वह पटेल नगर हटिया में उनका अपना मकान है। दो मंजिले मकान के ग्राउंड फ्लोर में वह परिवार के साथ रहते हैं। उपरी तल पर रेलवे कर्मी रामबाबू परिवार के साथ रहते हैं। 18 मई को वह अपने परिवार के साथ पैतक गांव बिहार चले गए थे। घर पर ताला लगाकर वह गए थे। किराएदार रामबाबू को इसकी जानकारी उन्होंने दी थी। इसी बीच 26 मई को उन्हें राम बाबू ने यह जानकारी दी कि उनके घर का ताला टूटा हुआ है। आनन-फानन में वह 27 मई को रांची पहुंचे। देखा कि अलमीरा भी खुला हुआ है। 250 ग्राम सोने के जेवरात और डेढ़ किलोग्राम चांदी के जेवरात के अलावा कैमरा व अन्य सामान गायब है। जिसकी कीमत 16 लाख रुपए से ज्यादा है। इसके बाद उन्होंने जगन्नाथपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी।

पैतक गांव गए थे रेलवे कर्मी, दो लाख की हो गई चोरी

रेलवे ट्रैकमैन के पद पर पदस्थापित रामबाबू टुपादा ने जगन्नाथपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। रामबाबू ने पुलिस को बताया कि वह हटिया पटेल नगर स्थित विनय कुमार के घर पर बतौर किराएदार रहते हैं। उनके पिता की तबियत खराब थी। इस वजह से वह 18 मई को अपने पैतक गांव पुडीवल्लभ चले गए। इसकी जानकारी उन्होंने मकान मालिक को भी दी थी। घर पर रहने के लिए उन्होंने अपने सहकर्मी श्रीधर को रखा था। 26 मई की सुबह वह रांची पहुंचे। देखा कि घर के ग्रील का ताला टूटा हुआ है। भीतर अलमीरा भी खुला हुआ है। सोने का हार, चेन, कान की बाली, चूड़ी, चांदी का पायल आदि सामान गायब है। जिसकी कीमत करीब दो लाख रुपए हैं। इसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी मकान मालिक और पुलिस को दी। सूचना मिलने के बाद जगन्नाथपुर पुलिस मौके पर पहुंची। आसपास में पूछताछ की। लेकिन पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा।

संबंधित खबरें