DA Image
Wednesday, December 1, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड रांचीजिस इलाज में लगना था 20 हजार, लग रहा है चार लाख : आईएमए

जिस इलाज में लगना था 20 हजार, लग रहा है चार लाख : आईएमए

हिन्दुस्तान टीम,रांचीNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 09:41 PM
जिस इलाज में लगना था 20 हजार, लग रहा है चार लाख : आईएमए

रांची। संवाददाता

आईएमए झारखंड ने रविवार को क्लीनिकल इस्टैब्लिशमेंट एक्ट को लेकर आईएमए रांची में बैठक की। इस दौरान आईएमए झारखंड के डॉ प्रदीप कुमार ने कहा कि कारपोरेट अस्पतालों के दबाव में क्लीनिकल इस्टैब्लिशमेंट एक्ट को झारखंड में हू-ब-हू लागू कर दिया गया। जबकि केंद्र ने राज्य सरकार को संसाधनों के हिसाब से संशोधन कर लागू करने का अधिकार दिया था। पर ऐसा नहीं किया गया। इस कारण जिस इलाज के लिए मरीज को 20 हजार से 40 हजार तक लगने थे उसके बदले चार से पांच लाख तक का भुगतान करना पड़ रहा है। आईएमए ने मांग की है कि हरियाना की तर्ज पर पचास बेड के अस्पतालों को एक्ट में छूट दिया जाना चाहिए। आईएमए ने 50 बेड तक के अस्पतालों के लिए इस प्रवाधानों में छूट देने की मांग की है।

आईएमए वीमेंस विंग की अध्यक्ष डॉ भारती कश्यप ने कहा कि सरकार जहां छोटे उद्यमियों को उनके स्टार्टअप के लिए विशेष लोन की व्यवस्था दे रही है, वहीं दूसरी ओर युवा डॉक्टरों के स्टार्टअप को क्लीनिकल इस्टैब्लिशमेंट एक्ट के द्वारा प्रोत्साहित करने की बजाए उसे खत्म किया जा रहा है। ऐसा कर उन्हें कॉरपोरेट अस्पतालों में काम करने के लिए बाध्य किया जा रहा है। इसमें आम जनता का नुकसान है कि युवा प्रशिक्षित डॉक्टर की छोटी क्लीनिक में इलाज करने पर लोगों को कॉरर्पोरेट अस्पतालों की तुलना में बहुत सस्ता इलाज मिलता।

मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग

आईएमए ने बैठक में मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग की। डॉक्टरों ने कहा कि झारखंड सरकार बार-बार कह रही है कि मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने को लेकर तत्पर हैं पर अभी तक लागू नहीं हो सका है। आईएमए के प्रेसिडेंट ने कहा कि मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू हो जाने से स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत परिवर्तन आएगा। इलाज के खर्च में अत्यधिक भुगतान नहीं करना पड़ेगा, साथ ही कोई बॉडी भी नहीं रोक सकेगा। इसके अलावा आइएमए ने डॉक्टरों को टाइम बांड प्रोमोशन देने की मांग भी की है। डॉक्टरों ने बताया कि कई साल सेवा देने के बाद भी डॉक्टर एक ही पद से रिटायर हो जाते हैं।

आईएमए झारखंड के प्रतिनिधियों का 19 दिसंबर को होगा चुनाव

आईएमए झारखंड के प्रतिनिधियों का चुनाव 19 दिसंबर को किया जाएगा। इसके लिए 12 से 27 नवंबर तक नॉमिनेशन किया जाएगा। 29 नवंबर को स्क्रूटनी होगा। उसके बाद बैलेट पेपर छपाकर सभी जिलों में भेज दिया जाएगा। चुनाव का परिणाम 25 दिसंबर को जारी किया जाएगा।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें