DA Image
23 जनवरी, 2021|4:57|IST

अगली स्टोरी

तीनों डैम के सीमांकन की रिपोर्ट अगले सप्ताह सौंपेगी टीम

default image

रांची। प्रमुख संवाददाता

रांची के तीनों डैम के सीमांकन की रिपोर्ट अगले सप्ताह सौंप दी जाएगी। सीमांकन करने के बाद डैम के क्षेत्र की घेराबंदी की जाएगी। रांची के डैमों और जलाशयों के किनारे किए जा रहे अतिक्रमण और जमीन घेर कर अवैध तरीके से बड़े पैमाने पर हो रही गड़बड़ी को देखते हुए उपायुक्त छवि रंजन ने एक टीम का गठन कर डैमों का सीमांकन कर डैम की जमीन पर किए गए अतिक्रमण और अवैध कब्जा को हटाने का निर्देश दिया है।

24 दिसंबर को उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों की बैठक कर एक सप्ताह में रिपोर्ट मांगी थी। एक सप्ताह के अंदर सीमांकन का काम पूरा कर डैम के लिए अधिग्रहित जमीन और उपलब्ध जमीन का ब्योरा संबंधित साइट एनजीडीआरएस पर अपलोड करने का भी निर्देश अधिकारियों को दिया था। टीम में संबंधित अंचल अधिकारी, जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता, कनीय अभियंता और अमीन को शामिल किया गया है। जानकारी के अनुसार सीमांकन का काम अंतिम चरण में है और इसकी प्रारंभिक रिपोर्ट अगले सप्ताह सौंप दी जाएगी।

कांके डैम के पास करीब 100 लोगों का है अतिक्रमण :

कांके डैम को लेकर जो रिपोर्ट जिला प्रशासन को मिली है, उसके अनुसार डैम की जमीन पर करीब 100 लोगों ने अतिक्रमण कर निर्माण किया है। हेसल मौजा में 53, नवा सोसो में 12 और कटहल गोंदा में कुल 34 लोगों द्वारा अतिक्रमण पाया गया है। सभी अतिक्रमणकारियों को नोटिस भेजा गया है। नोटिस के बाद जो जवाब मिलेगा, उसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

हटिया डैम के नगड़ी अंचल में 67 लोगों को नोटिस :

नगड़ी अंचल सीओ ने हटिया डैम के अतिक्रमण की रिपोर्ट सौंपी है, जिसमें पांच मौजा में अतिक्रमण पाया गया है। इसमें लावेद मौजा, बालालौंग मौजा, होटवासी मौजा, हड़सेर मौजा में कुल 67 लोगों का अतिक्रमण पाया गया है। इन्हें नोटिस भेज दिया गया है।

रूक्का डैम का हो रहा सर्वे :

रूक्का डैम के संबंध में अनगड़ा सीओ ने अपनी रिपोर्ट प्रशासन को सौंपी है, जिसमें सिमलिया में सरना स्थल, महेशपुर मौजा में 6 लोगों द्वारा, मसनिया में दो लोगों और गेतलसूद में 4 लोगों द्वारा अतिक्रमण पाया गया है। वहीं, 7 मौजा ऐसा पाया गया है, जहां कोई अतिक्रमण नहीं है। ओरमांझी सीओ ने रूक्का डैम के कैचमेंट एरिया की चकला पंचायत के तहत 50 एकड़ बेची गई जमीन को चिन्हित कर और जमीन लेने वालों को नोटिस भेजा है। गेतलसूद डैम के कैचमेंट एरिया में किए गए अतिक्रमण को लेकर प्रशासन सर्वे कर रहा है। इसमें अनगड़ा प्रखंड के तुरूप, सालहन, मासू, गेतलसूद, महेशपुर, सिमलिया, लाधुपटोली, आगरटोली, लालगढ़, गाधीग्राम, चिलदाग सोसो गांव गेतलसूद डैम का डूब क्षेत्र है। इन क्षेत्रों के कैचमेंट इलाके में अतिक्रमण किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The team will submit the report of demarcation of all three dams next week