DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › रांची › मुकदमे का सामना कर रहे आरोपियों को निर्धारित तारीख में देनी होगी हाजिरी
रांची

मुकदमे का सामना कर रहे आरोपियों को निर्धारित तारीख में देनी होगी हाजिरी

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Mon, 27 Sep 2021 06:20 PM
मुकदमे का सामना कर रहे आरोपियों को निर्धारित तारीख में देनी होगी हाजिरी

रांची। संवाददाता

भ्रष्टाचार एवं मनी लाउंड्रिंग के आरोपियों को अब सुनवाई के लिए निर्धारित हर तारीख में विशेष अदालत में हाजिरी लगानी होगी। कोविड-19 महामारी के बाद एवं बीते 23 मार्च से 15 सितंबर तक सीबीआई एवं ईडी की विशेष अदालत रिक्त रहने के कारण मुकदमे का सामना कर रहे आरोपी उपस्थिति दर्ज नहीं करा रहे थे, जबकि सप्ताह में तीन दिन फिजिकल कोर्ट में सुनवाई हो रही है। मामले के आरोपियों को स्वयं या अधिवक्ता के माध्यम से उपस्थिति दर्ज कराने का निर्देश है।

इतना ही नहीं जिन आरोपियों को हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट से जिस नियम और शर्तों के आधार पर जमानत की सुविधा मिली है, उसका भी पालन करना होगा। मनी लाउंड्रिंग एवं भ्रष्टाचार के आरोप में ट्रायल फेस कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा, पूर्व मंत्री कमलेश सिंह व अन्य आरोपियों को हर निर्धारित तारीख में व्यक्तिगत रूप से अदालत में हाजिरी लगाने की शर्त पर जमानत की सुविधा प्रदान की गई है। इसी मामले में मुंबई निवासी मनोज पुनमिया, अरविन्द व्यास, पुणे निवासी अनिल बस्तावड़े, कोलकाता के व्यवसायी दिलीप जोशी समेत अन्य कई आरोपियों को जमानत की शर्तों का पालन करना होगा। लगभग डेढ़ साल तक उक्त मामले के आरोपियों को कोरोना महामारी संक्रमण के कारण हाजिरी देने से छूट अप्रैल 2019 से लेकर फिजिकल कोर्ट प्रारंभ तक रही।

कई मामलों में आरोप निर्धारण होगा

फिजिकल कोर्ट शुरू होने के साथ विशेष न्यायाधीश के योगदान के बाद अब भ्रष्टाचार एवं मनी लाउंड्रिंग के कई मामलों में आरोप तय के बिंदु पर सुनवाई होगी, जो पिछले डेढ़ साल से तारीखों में चल रही है। अब आरोप गठन के बिंदु पर सुनवाई के दिन मामले के आरोपियों को अदालत तक पहुंचना होगा।

संबंधित खबरें