ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रांचीशिक्षिकाएं शिक्षा सचिव से मिलीं, पीएचडी इंक्रीमेंट मामले में रखी बात

शिक्षिकाएं शिक्षा सचिव से मिलीं, पीएचडी इंक्रीमेंट मामले में रखी बात

रांची विश्वविद्यालय की शिक्षिकाओं का एक प्रतिनिधिमंडल उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग की ओर से पीएचडी इंक्रीमेंट संबंधी प्रस्ताव को लौटाए जाने के मामले...

शिक्षिकाएं शिक्षा सचिव से मिलीं, पीएचडी इंक्रीमेंट मामले में रखी बात
हिन्दुस्तान टीम,रांचीFri, 24 May 2024 08:00 PM
ऐप पर पढ़ें

रांची, प्रमुख संवाददाता। रांची विश्वविद्यालय की शिक्षिकाओं का एक प्रतिनिधिमंडल उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग की ओर से पीएचडी इंक्रीमेंट संबंधी प्रस्ताव को लौटाए जाने के मामले में शुक्रवार को विभाग के प्रधान सचिव राहुल पुरवार से मिला। शिक्षिकाओं का कहना था कि पीएचडी इंक्रीमेंट संबंधी प्रस्ताव लौटाने पर विभाग की ओर से जो दलील दी गई है वह समझ से परे है। इसमें विभाग का कहना है कि डीन एकेडमिक्स का कोई पद विश्वविद्यालय में नहीं होता है, इसलिए उनका हस्ताक्षर मान्य नहीं होगा। शिक्षिकाओं का कहना था कि जबकि कई मामलों में डीन एकेडेमिक्स के हस्ताक्षरित प्रस्तावों को स्वीकार किया गया है।
मामले को सुनने के बाद शिक्षा सचिव ने विभाग के उपनिदेशक अनमोल कुमार और विभा पांडेय को बुलाकर इस बारे में जानकारी ली। साथ ही, उन्होंने रांची विवि के कुलपति डॉ अजीत कुमार सिन्हा से भी बात की। शिक्षा सचिव ने कुलपति के हस्ताक्षर से दुबारा प्रस्ताव भेजने की बात कही।

बता दें, विभाग की ओर से रांची विवि के 69 शिक्षकों का पीएचडी इंक्रीमेंट प्रस्ताव पिछले दिनों वापस कर दिया गया था। प्रतिनिधिमंडल में डॉ नीलू सिंह, डॉ रीता कुमारी, डॉ गीता सिंह, डॉ नियति कल्प, डॉ सुनीता कुमारी, डॉ शशि शामिल थीं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।