DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वच्छता ही सेवा पर विशेष ध्यान दें उपायुक्त: सीएम

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को देशभर में सबसे ज्यादा सराहा गया है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने के लिए झारखंड सरकार कृतसंकल्पित है। काम अब अंतिम चरण में है। 15 सितंबर से पूरे देश में स्वच्छता ही सेवा अभियान की शुरुआत हो रही है। इस दौरान न गंदगी करेंगे और न करने देंगे का संकल्प सभी लेंगे। दो अक्तूबर तक चलने वाले इस अभियान को जन आंदोलन बनाना है। सभी उपायुक्त इस पर विशेष ध्यान दें। मुख्यमंत्री बुधवार को प्रोजेक्ट भवन में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों के उपायुक्तों से बात कर रहे थे। 
सभी को करना है श्रमदानः मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम में सभी को श्रमदान करना है। मुख्यमंत्री, मंत्री, जनप्रतिनिधि, अधिकारी, आम लोग, व्यापारिक संगठन, सामाजिक संगठन के प्रतिनिधियों को इसमें भागीदारी करनी है। इसके तहत हर दिन एक घंटा सभी को साफ-सफाई के लिए श्रमदान करना है। 
दो अक्तूबर को झारखंड को ओडीएफ करना हैः मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम के दौरान राज्य को पूरी तरह खुले में शौचमुक्त (ओडीएफ) करना है। दो अक्तूबर को झारखंड खुले में शौचमुक्त हो जाएगा। उन्होंने रांची, दुमका, गिरिडीह, गुमला, पाकुड़, गोड्डा समेत आठ जिलों के उपायुक्तों को 30 सितंबर तक ओडीएफ के लिए तेजी से काम करने का निर्देश दिया। ये आठ जिले अभी ओडीएफ के क्षेत्र में पीछे चल रहे हैं। उन्होंने उपायुक्तों को 17 से 25 सितंबर तक सेवा दिवस मनाने के बारे में जानकारी दी। सभी उपायुक्तों को जिले से सिविल सर्जन के साथ मिल कर शहरी स्लम इलाके में हेल्थ कैंप लगाने का निर्देश दिया। साथ ही, सभी क्षेत्रों में एलईडी वाहनों एवं स्थायी स्क्रीनों पर प्रधानमंत्री के जीवन पर बनी प्रेरक लघु फिल्म चलो जीते हैं को प्रदर्शित करने का निर्देश दिया।  
प्रधानमंत्री कर रहे शुरुआत
मुख्यमंत्री ने बताया कि 23 सितंबर से आयुष्मान भारत की शुरुआत पूरे देश में झारखंड से हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड से इसकी शुरूआत करेंगे। राज्य के चिह्नित 57 लाख परिवारों को पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा किया जायेगा। आयुष्मान भारत सफलतापूर्वक झारखंड में लागू हो सके इसके लिए सांसद, विधायक सहित क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि एवं सामाजिक संगठन से जुड़े लोग अपने-अपने क्षेत्रों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। इससके साथ ही मजदूरों व सफाई कर्मचारियों का एक सम्मेलन भी आयोजित किया जाएगा। इसमें अच्छा काम करनेवाले कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जायेगा। 
वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल, जल संसाधन व स्वच्छता विभाग की सचिव आराधना पटनायक, शहरी विकास विभाग के सचिव अजय कुमार समेत अन्य वरीय अधिकारी  मौजूद थे।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Special attention to cleanliness service: Deputy Commissioner: CM