DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  35 दिन बाद भी कोवैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लिए नहीं खुला स्लॉट
रांची

35 दिन बाद भी कोवैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लिए नहीं खुला स्लॉट

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 03:11 AM
35 दिन बाद भी कोवैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लिए नहीं खुला स्लॉट

रांची। कुमार गौरव

राजधानी रांची में 18 से 45 आयु वर्ग के लोगों को 14 मई से कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। इस आयु वर्ग के जिन्होंने कोवैक्सीन का टीका पहले दिन लिया था, वे 28 दिन बाद ही दूसरी डोज लेने के योग्य हो गए। 14 मई को जिन्होंने पहली डोज ली थी वे 11 जून को दूसरी डोज ले सकते थे। 28 के बजाय 35 दिन हो गए पर कोवैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लिए अब तक स्लॉट नहीं खोला गया है। ऐसे में कई युवा दूसरी डोज लेने से वंचित हो गए हैं। हालांकि 28 से 45 दिनों के बीच वैक्सीन लेने का समय निर्धारित है। बता दें कि राज्य में कोवैक्सीन की उपलब्धता कम है। जिस कारण लोगों को कोवैक्सीन की पहली डोज नहीं लगाई जा रही है। रांची में बुधवार तक 860 लोग दूसरी डोज के लिए योग्य हो गये थे।

पहली डोज लेने वालों को सिर्फ कोविशील्ड:

रांची जिले में कोवैक्सीन की कमी के कारण पहली डोज लेने वालों को कोविशील्ड का टीका दिया जा रहा है। पहली डोज लेने वाले किसी भी लोगों को कोवैक्सीन नहीं लगायी जा रही है। वहीं 45 प्लस के वैसे लोग जिन्होंने कोवैक्सीन की पहली डोज लगायी थी, उनके लिए कोवैक्सीन की दूसरी डोज उपलब्ध है। बता दें कि 45 प्लस के औसतन 1500 लोगों को प्रतिदिन दूसरी डोज लगाई जा रहा है। बुधवार को 1680 लोगों को दूसरी डोज दी गई।

45 प्लस के लिये कोवैक्सीन की 8040 डोज उपलब्ध:

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार 18 से 45 आयु वर्ग के लिए राजधानी रांची के पास 1040 कोविशील्ड की डोज और 110 कोवैक्सीन की डोज उपलब्ध हैं। वही 45 प्लस के लिए कुल 20400 डोज उपलब्ध है जिसमें कोविशील्ड के 12360 और कोवैक्सीन के 8040 डोज उपलब्ध हैं।

आज से लग सकती है 18 प्लस को दूसरी डोज:

रांची के डीआरसीएचओ शशिभूषण खलखो ने बताया कि डोज की उपलब्धता कम थी जिस कारण यह अब तक चालू नहीं हो सका था। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को टीके की दूसरर डोज लगायी गयी थी। बुधवार की रात टीका उपलब्ध कराया गया था। अब शुक्रवार से 18 प्लस के लोगों को टीके की दूसरी डोज लगायी जाएगी। टीका से जुड़े एक कर्मी ने बताया कि जिन केंद्रों में शुरुआती दिनों में टीका लगाया गया था, उन्हीं केंद्र में कोवैक्सीन की दूसरी डोज लोगों को दी जाएगी।

संबंधित खबरें