ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रांचीटीबी खत्म करने के प्रयासों पर तेजी लाने को लेकर रिम्स करेगा रिसर्च

टीबी खत्म करने के प्रयासों पर तेजी लाने को लेकर रिम्स करेगा रिसर्च

टीबी उन्मूलन का लक्ष्य 2025 तय है। टीबी को जड़ से हटाने के लिए हो रहे प्रयासों में कैसे तेजी लाई जाए, इस पर रिम्स के डॉ देवेश रिसर्च कर रहे हैं। इस...

टीबी खत्म करने के प्रयासों पर तेजी लाने को लेकर रिम्स करेगा रिसर्च
हिन्दुस्तान टीम,रांचीMon, 17 Jun 2024 09:45 PM
ऐप पर पढ़ें

रांची, संवाददाता। टीबी उन्मूलन का लक्ष्य 2025 तय है। टीबी को जड़ से हटाने के लिए हो रहे प्रयासों में कैसे तेजी लाई जाए, इस पर रिम्स के डॉ देवेश रिसर्च कर रहे हैं। इस रिसर्च को हजारीबाग के विभिन्न प्रखंडों में किया जाएगा।
डॉ देवेश ने बताया कि कई बार देखा जाता है कि जहां पर हम टीबी खात्मे की बात कर रहे हैं, वहां रिसोर्सेज नहीं हैं। मैनपावर की कमी है या ट्रेनिंग में परेशानी होती है। इन्हीं चीजों को दूर कर लक्ष्य तक टीबी को जड़ से मिटाया जा सकेगा। रिसर्च के लिए 44.40 लाख का ग्रांट दिया है। टीबी खात्मे के लिए जो एसओपी भी दी गई है, वह कितना कारगर है इसपर रिसर्च किया जाएगा। इस रिसर्च में यह भी देखा जाएगा कि यह कारगर है भी या नहीं, सही करने के लिए किन उपायों की जरूरत है। इस रिसर्च में इन सभी परेशानियों की पहचान कर उसका समाधान ढूंढ़ा जा सके। इसके साथ ही इस रिसर्च के मॉडल को बाकी जगहों पर भी लागू किया जा सके। रिम्स प्रबंधन की ओर से इस रिसर्च के लिए 7 पदों पर वैंकेंसी के लिए विज्ञापन निकाला गया है। इसके लिए एमबीबीएस, एमवीएससी और बीडीएस पासआउट आवेदन कर सकते हैं। वहीं, प्रोजेक्ट टेक्निकल सपोर्ट-1 के लिए 4 पद पर और प्रोजेक्ट टेक्निकल सपोर्ट-2 के लिए 2 पद पर नियुक्ति किया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।