class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रपति की सुरक्षा के मद्देनजर सात जोन में बंटी रांची, राष्ट्रपति के काफिले में होंगी 22 गाड़ियां

राष्ट्रपति की सुरक्षा के मद्देनजर सात जोन में बंटी रांची, राष्ट्रपति के काफिले में होंगी 22 गाड़ियां

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के रांची आगमन पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होंगे। राष्ट्रपति के कार्यक्रमों को लेकर रांची शहर को सात जोन में बांट दिया गया है। राष्ट्रपति से एयरपोर्ट में उन्हीं लोगों को मिलने दिया जाएगा जिनकी लिस्ट राजभवन की तरफ से सौंपी जाएगी। शहर के सभी थानेदारों को आदेश दिया गया है कि राष्ट्रपति के आने से पूर्व से प्रस्थान तक संपूर्ण हवाई अड्डा और बाहरी क्षेत्र में लगातार गश्ती करें। एयरपोर्ट की सीमा से 500 मीटर की परिधि में सभी पुल-पुलिया, नदी- नालों की जांच करने का आदेश दिया गया है। राष्ट्रपति के काफिले में 22 गाड़ियां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के काफिले में 22 गाड़ियां होंगी। दो बुलेट प्रूफ वीवीआईपी कार होगी। जिसमें राष्ट्रपति, राज्यपाल और पीएसओ 1 सवार होंगे। राष्ट्रपति के काफिले के ठीक पीछे मुख्यमंत्री रघुवर दास का काफिला होगा। हर प्रकार के वाहन दो घंटा पहले हटाए जाएं डीसी और एसएसपी के संयुक्तादेश में पुलिस पदाधिकारियों को आदेश दिया गया है कि रूट लाइनिंग के मार्ग में दो घंटा पहले कहीं भी ठेला, रिक्शा, ऑटो, दो पहिया, चार पहिया या कोई अन्य वाहन न लगा हो। आदेश दिया गया है कि राष्ट्रपति के संबंधित रूट पर गुजरने से करीब एक घंटा पहले उन रास्तों पर सभी प्रकार के वाहनों का परिचालन रोक दें। ऐसे सभी व्यवधानों को हटाने का आदेश दिया गया है जिनसे रास्ता अवरूद्ध होने की आशंका हो। प्रतिनियुक्त पुलिसकर्मियों को आदेश दिया गया है कि वह काफिला गुजरने के दौरान अपनी नजर भीड़ की तरफ रखेंगे, ताकि भीड़ के क्रियाकलाप पर ध्यान दी जा सके। सड़क के किनारे के दस फीट के क्षेत्र और सड़क पर बने डिवाइडर पर कोई व्यक्ति खड़ा न रहे यह सुनिश्चित करने का भी आदेश दिया गया है। ये हैं सुरक्षा जोन जोन वन- बिरसा मुंडा एयरपोर्ट का पूरा क्षेत्र जोन दो- एयरपोर्ट से राजभवन और राष्ट्रपति के पूरे विजिट रूट को इस जोन में रखा गया है। इस जोन में वीवीआईपी भ्रमण के दौरान हरमू फ्लाईओवर के पास विरोधी गुट द्वारा अशांति या विरोध स्वरूप प्रदर्शन किए जाने की आशंका जतायी गई है। जोन तीन- रांची शहर के प्रमुख चौक चौराहों हिनू, बिरसा चौक, डीबडीह समेत 35 जगहों को इस जोन में रख गया है। इन चौकों पर स्टैटिक फोर्स की तैनाती की गई है। जोन चार- जोन राम में राजभवन के पूरे क्षेत्र को रखा गया है। मुख्य दरवाजे के बाहर गाड़ियों का जमाव नहीं होने देने का आदेश दिया गया है। जोन पांच- जोन पांच में बिरसा चौक का इलाका है। खूंटी से पदयात्रा कर आने वाले ग्रामीण यहां राष्ट्रपति के प्रतिनिधि को मिट्टी का कलश सौपेंगे। जोन छह - मोरहाबादी मैदान के कार्यक्रम स्थल को जोन छह में रखा गया है। डी एरिया, मंच, वीआईपी गैलरी, पब्लिक ब्लॉक समेत कार्यक्रम स्थल को नौ डिविजन में बांटा गया है। प्रत्येक जोन पर बल के साथ एक मजिस्ट्रेट व पुलिस अफसर की तैनाती होगी। जोन सात- योगदा सत्संग आश्रम को जोन सात में रखा गया है। योगदा सत्यंग आश्रम को भी सुरक्षा के लिहाज से छह जोन में बांटा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ranchi in seven zones in view of Presidential security
रिम्स में ग्रेजुएशन सेरेमनी: 34 को गोल्ड मेडल, 158 छात्रों को मिली डिग्रीकिसान रामेश्वर राष्ट्रपति के हाथों लेंगे फसल बीमा की राशि