DA Image
2 दिसंबर, 2020|3:01|IST

अगली स्टोरी

राज्यभर के जेलों में छापा, पूर्व विधायक के पास से कैश, कैदियों के पास से मोबाइल, पैनड्राइव, चाकू, ब्लेड भी मिला

default image

राज्य के अलग अलग जेलों से अपराधिक गिरोहों के संचालन की सूचना मिलने के बाद मंगलवार की देररात से बुधवार की सुबह तक पुलिस ने छापेमारी की। छापेमारी के दौरान अलग अलग जेलों में पुलिस को अंदर प्रवेश करने के लिए आधे से एक घंटे का इंतजार करना पड़ा। बावजूद इसके जेलों में मोबाइल, पेन ड्राइव, कैश, चाकू, सिगरेट, तंबाकू जैसे जेल में प्रतिबंधित सामना मिले हैं। एक साथ राज्य के सभी 24 जिलों में पुलिस ने छापेमारी शुरू की थी। जेल में प्रतिंबंधित सामानों के मिलने से जेल प्रशासन पर सवाल उठ रहे हैं।

हत्याकांड में बंद पूर्व विधायक के पास कैश मिला :

धनबाद में सिंह मेंशन के संजीव सिंह के पास से छापेमारी के दौरान पुलिस ने 2510 रुपये नकदी बरामद की। अपने ही सगे चचेरे भाई नीरज सिंह की हत्या के आरोप में झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह बीते कुछ सालों से जेल में बंद हैं। धनबाद जेल में ही महिला वार्ड में छापेमारी के दौरान पुलिस ने अनिता रवानी के पास से 1436 रुपये, रश्मि नाम की कैदी के पास से 1900 रुपये बरामद किए।

जिन जेलों में नक्सलियों की संख्या अधिक, वहां मिले ये सामान :

राज्य के नक्सल प्रभाव वाले जिले गिरिडीह से दो मोबाइल फोन, चार छोटा कैंची, चार टीन की धारदार वस्तु, ब्लेट, सिगरेट का डब्बा व तंबाकू बरामद की गई है। वहीं सरायकेला में पंद्रह पीस माचिस, 2 मनी पर्श, सादा कागज, चार जिस्ता, छोटी छोटी रस्सियां, कमल वगैरह की बरामदगी कैदियों के पास से हुई है।

सबसे संवेदनशील घाघीडीह जेल :

जमशेदपुर का घाघीडीह सबसे संवेदनशील है। घाघीडीह जेल से लगातार सुजीत सिन्हा गिरोह के द्वारा रंगदारी की मांग की जा रही थी। वहीं हाल के दिनों में जेल में गैंगवार की वारदात भी हुई थी। जेल में छापेमारी के दौरान सिक्कड़, कैची, मोबाइल चिप, चाकू, पेन ड्राइव, ब्लेड, लछ्छे में मोड़ा हुआ रस्सी बरामद किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Raids in jails across the state cash from former MLA mobile pandrive knife blade from prisoners were also found