DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › रांची › निजी अस्प्ताल एक दिन के 58 हजार रुपये तक वसूल रहे थे संक्रमित से
रांची

निजी अस्प्ताल एक दिन के 58 हजार रुपये तक वसूल रहे थे संक्रमित से

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Sun, 28 Mar 2021 03:01 AM
निजी अस्प्ताल एक दिन के 58 हजार रुपये तक वसूल रहे थे संक्रमित से

वरीय संवाददाता

कोरोनाकाल में राजधानी के निजी अस्पताल ने जमकर लूट-खसोट मचाई। जब कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या के कारण सरकार द्वारा बनाए गए डेडिकेटिड कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) में बेड कम पड़ने लगे तो निजी अस्पताल मरीजों से कमरा, पीपीइ किट, मास्क, नर्सिंग चार्ज सहित अन्य सुविधाओं के नाम पर मनमाना पैसा वसूलने लगे।

उस समय निजी अस्पताल एक मरीज से इलाज के नाम पर एक दिन (24 घंटे) के 58,780 रुपये तक वसूलते पाए गए। कोरोना की जांच के लिए भर्ती एक मरीज से सिर्फ रूम चार्ज के रूप में 24 घंटे के लिए 13,500 रुपये तक निजी अस्पतालों ने लिया। डॉक्टरों के विजिटिंग चार्ज के नाम पर मरीजों से 1,500 और 3,000 वसूले जा रहे थे। यहां तक कि अस्पताल कमरे की सफाई के नाम पर 2,000 रुपये ले रहे थे। एक निजी अस्पताल ने तो क्रिटिकल केयर में 14 दिनों तक भर्ती संक्रमित से बेड चार्ज के रूप में 56,800 रुपये, डॉक्टरों के विजिटिंग चार्ज के नाम पर 26,300 रुपये और खून जांच के एवज में 43,477 रुपये वसूल लिए थे। संक्रमित जब ठीक होकर घर जाने को तैयार हुआ, तो उसके परिजनों को कुल 2,31,176 रुपये का बिल थमा दिया गया।

मरीज से लिया जा रहा था फाइव स्टार होटल की तरह कमरे का किराया

उस समय राजधानी के बड़े निजी अस्पतालों के कमरे का किराया फाइव स्टार होटल से भी ज्यादा था। राजधानी के एक बड़े निजी अस्पताल में एक दिन का मरीज से एक कमरे का किराया 14,500 रुपये लिया जा रहा था। वहीं, फाइव स्टार होटल में एक दिन का किराया 8,500 रुपये (टैक्स अलग से) तक है।

संबंधित खबरें